रे फाउंडेशन ने रचा इतिहास

549

नई दिल्ली/महेंद्र नगर (नेपाल), 30 मई। वायस एशिया के नेतृत्व में ग्लोबल इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन एवं स्टार्ट अप मीडिया प्रोडक्शन ने संयुक्त रूप से 28-29 मई को दो दिवसीय फिल्म मेकिंग वर्कशाप  का आयोजन किया गया। वर्कशाप का आयोजन नेपाल के महेंद्र नगर स्थित सार्क एजुकेशन फाउंडेशन के कालेज सभागार में किया गया।
इस इन्नोवेटिव वर्कशॉप के संयोजक रे फाउंडेशन के चेयरमैन कौशल कुमार ने बताया कि सार्क एजुकेशन फाउंडेशन के साठ विद्यार्थियों को वरिष्ठ फिल्ममेकर विकास रंजन सिंह तथा लेखक-पत्रकार-मीडिया शिक्षाविद् एस.एस.डोगरा ने मोबाइल से फिल्मांकन करने के प्री प्रोडक्शन से लेकर पोस्ट प्रोडक्शन की तमाम विधाओं के गुर सिखाए।
गौरतलब है कि उक्त फिल्म मेकिंग वर्कशाप आयोजित करते हुए चिल्ड्रन फिल्म जगत में, रे फाउंडेशन ने सार्क एजुकेशन फाउंडेशन नेपाल संग अनोखा इतिहास रच डाला। इसी वर्कशाप के दौरान पहले दिन एस. एस. डोगरा द्वारा अंग्रेजी भाषा में निर्देशित शार्ट फिल्म लाइब्रेरी को भी स्क्रीन किया गया जिसे उपस्थित विद्यार्थियों ने बड़े चाव से देखा। वर्कशाप के दूसरे दिन सभी विद्यार्थियों को स्थानीय प्राचीन विष्णु मंदिर भ्रमण तहत आउटडोर शूटिंग भी करवाया गया। जिसमें न्यूज मीडिया एवं मोबाइल डॉक्यूमेंट्री मेकिंग की अन्य बारीकियों को की जानकारी छात्र छात्राओं को प्रदान की गई।
सार्क एजुकेशन फाउंडेशन के संस्थापक लक्ष्मण बस्नेत ने बताया कि वर्तमान में फिल्म निर्माण की नई-नई तकनीक आ रही है। उन्होंने कहा कि रील और डिजिटल कैमरे के बाद अब बेहतर क्वालिटी के मोबाइल कैमरों के कारण इससे फिल्म बनाना और आसान होता जा रहा है साथ ही समय और धन दोनों की ही बचत होती है। उन्होंने बताया कि युवा वर्ग में मोबाइल फिल्म निर्माण के प्रति बढ़ते रूझान को देखते हुए सार्क एजुकेशन फाऊंडेशन में यह कार्यशाला आयोजित की है।
नेपाली गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर एवं वर्कशॉप समापन समारोह के दौरान सार्क एजुकेशन फाउंडेशन के संस्थापक लक्ष्मण बस्नेट ने भारत से विशेष रूप से पधारे कौशल कुमार, विकास रंजन सिंह, इंद्रजीत सिंह और एस.एस.डोगरा का आभार व्यक्त करते हुए नेपाली परंपरा अनुसार सम्मानित भी किया। साथ ही सार्क स्पैक्ट्रम न्यूज जर्नल के पोस्टर का सार्क स्कूल के प्रधानाचार्य दीपेंद्र जोशी, अंग्रेजी भाषा इंस्ट्रक्टर महेन खड़का, दीपा क्षेत्री, संगीता खड़का, राजेश भंडारी, संगीत शर्मा, ब्रिंदा केसी और भारतीय अतिथियों की उपस्थिति में विधिवत विमोचन भी किया गया।

शिमला में पर्यावरण मंत्रालय का एकीकृत क्षेत्रीय कार्यालय खोलने का आग्रह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here