कोरोना काल में पीड़ितों का संबल बनें डॉक्टरः डॉ. सैजल

682

सोलन, 14 मई, अक्षुण्ण भारत। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुष मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने प्रदेश के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों एवं कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए तैनात अन्य को निर्देश दिए हैं कि पीडि़त मानवता की सेवा के लिए इस संकटकाल में अपने मोबाइल फोन बंद न रखें और फोन पर आ रही कॉल का उत्तर दें।

डॉ. सैजल आज यहां वर्चुअल माध्यम से आयुष विभाग द्वारा होम आइसोलेट कोविड-19 पॉजिटिव रोगियों को योग के माध्यम से स्वस्थ रखने के लिए राज्य स्तरीय ‘आयुष घर-द्वार’ कार्यक्रम का शुभारंभ करने के उपरांत प्रदेश के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों एवं जिला आयुर्वेदिक अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि वर्तमान संकट एवं दबाव के समय में कई बार ऐसा हो सकता है कि चिकित्सक एवं अन्य किसी कारणवश मोबाइल फोन न सुन पाएं। ऐसे में सभी यह सुनिश्चित बनाएं कि वापस फोन किया जाए। उन्होंने कहा कि संकट के समय में फोन करने वाले गंभीर रोगी एवं उनके परिजन भी हो सकते हैं। चिकित्सक द्वारा समय पर प्रदान किया हुआ परामर्श बहुमूल्य मानवीय जीवन को बचा सकता है। उन्हांेने सभी चिकित्सकों को निर्देश दिए कि महामारी के इस समय में रोगियों एवं उनके परिजनों के साथ संवेदनशील व्यवहार सुनिश्चित बनाएं।

होम आइसोलेशन में कोविड रोगियों की मदद के लिए आगे आएं पंचायतें

आयुष मंत्री ने कहा कि कोविड-19 पॉजिटिव रोगी अथवा उनके परिजन अपनी समस्या के निदान के लिए जिला एवं उपमंडल स्तर पर उपलब्ध चिकित्सकों के साथ-साथ उनसे भी दूरभाष के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।

डॉ. सैजल ने इस अवसर पर वर्चुअल माध्यम से शिमला के कोविड-19 पॉजिटिव रोगी मनदीप से बातचीत की। मनदीप ने उन्हें अवगत करवाया कि जब उन्हें परीक्षण के उपरांत कोविड-19 पॉजिटिव होने की सूचना मिली तो वे काफी चिंतित हो गए और मानसिक अवसाद ने उन्हें घेर लिया। ऐसे में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने न केवल चिकित्सीय रूप से अपितु मानसिक रूप से भी उन्हें संबल प्रदान किया। उन्होंने अन्य कोविड पॉजिटिव रोगियों से भी बातचीत की। कार्यक्रम में लगभग 80 कोविड पॉजिटिव होम आईसोलेट रोगी वर्चुअल माध्यम से जुड़े रहे।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने सभी कोविड-19 पॉजिटिव रोगियों से आग्रह किया कि आयुष घरद्वार कार्यक्रम का लाभ उठाएं। कार्यक्रम में वर्चुअल माध्यम से प्रदेश के स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी, सोलन में आयुष विभाग के निदेशक डी.के. रतन, सोलन में अतिरिक्त उपायुक्त अनुराग चंद्र शर्मा, आयुष विभाग की संयुक्त निदेशक डॉ. राखी सिंह, वर्चुअल माध्यम से प्रदेश के सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं जिला आयुर्वेदिक अधिकारी एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here