जल विद्युत क्षमता के दोहन के लिए 10 वर्षीय कार्य योजना

437

सोलन, 11 सितंबर। बहुदेशीय परियोजनाएं तथा ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने कहा कि प्रदेश सरकार हिमाचल की अपार जल विद्युत क्षमता का दोहन करने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रदेश सरकार जल विद्युत क्षमता के समुचित दोहन के लिए 10 वर्षीय कार्य योजना के कार्यान्वयन की दिशा में अग्रसर है। सुखराम चौधरी आज सोलन जिले के अर्की उपमंडल के कुनिहार में जन समस्याएं सुनने के उपरांत उपस्थित जन समूह को संबोधित कर रहे थे।
सुखराम चौधरी ने कहा कि हिमाचल में लगभग 25000 मेगावाट जल विद्युत क्षमता उपलब्ध है। राज्य में वर्तमान में 10,400 जल विद्युत क्षमता का दोहन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 10 वर्षीय कार्य योजना के कार्यान्वयन से समुचित जल विद्युत क्षमता के त्वरित एवं वैज्ञानिक दोहन में सहायता मिलेगी।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि विद्युत क्षमता के दोहन के साथ-साथ राज्य सरकार लोगों को कम वोल्टेज की समस्या से निजात दिलवाने तथा विद्युत से संबंधित विभिन्न समस्याओं का समयबद्ध निराकरण करने के लिए प्रतिबद्ध है।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में प्रदेश सरकार जन-जन को समय पर कल्याणकारी योजनाओं से लाभांवित करने तथा विभिन्न समस्याओं का समाधान उनके घर-द्वार पर करने के लिए दृढ़ संकल्प है।
सुखराम चौधरी ने कहा कि प्रदेश के साथ-साथ अर्की विधानसभा क्षेत्र में भी विद्युत लाइनों के लिए स्थापित लकड़ी के खंबे बदलने का कार्य निर्धारित समय सीमा के अनुसार किया जा रहा है। अर्की विधानसभा क्षेत्र में अभी तक लकड़ी के 1602 खंबे बदले जा चुके हैं। शेष 1535 खंबों को अगले साल अप्रैल तक बदल दिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में लो वोल्टेज की समस्या से निपटने के लिए नए ट्रांसफार्मर स्थापित किए जा रहे हैं तथा पुराने ट्रांसफार्मरों का स्तरोनयन भी किया जा रहा है।
सुखराम चौधरी ने इस अवसर पर विश्वास दिलाया कि अर्की विधानसभा क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं का शीघ्र निराकरण किया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों को समस्याओं को समयबद्ध आधार पर सुलझाने के निर्देश दिए। उन्होंने अर्की विधानसभा क्षेत्र के सरली में 33 केवीए विद्युत उप केंद्र तथा ग्राम पंचायत चण्डी कश्लोग, ग्याणा, मांगू, संघोई तथा कोटलू में लो वोल्टेज की समस्या के शीघ्र समाधान के निर्देश भी दिए।
ऊर्जा मंत्री से सभी से आग्रह किया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए नियम पालन में कोताही न बरतें तथा अपना टीकाकरण अवश्य करवाएं।
राज्य सहकारी विकास संघ के अध्यक्ष एवं प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष रतन सिंह पाल, जिला परिषद सदस्य हीरा कौशल, ग्राम पंचायत हाटकोट के प्रधान जगदीश अत्री, विभिन्न ग्राम पंचायतों के प्रतिनिधि, बीडीसी सदस्य देवेंद्र तनवर, भाजपा मंडल अर्की के अध्यक्ष डी के उपाध्याय, पेंशनर संघ के जयनंद शर्मा, प्रदेश महिला मोर्चा सदस्य कौशल्या कंवर, जिला भाजपा महामन्त्री अमर सिंर परिहार, भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश सचिव दलीप पाल, जिला किसान मोर्चा अध्यक्ष रमेश ठाकुर, भाजपा तथा भाजयुमो के अन्य पदाधिकारी, उप पुलिस अधीक्षक दाड़लाघाट प्रताप ठाकुर और प्रदेश विद्युत बोर्ड के अधीषाशी अभियंता विकास ठाकुर भी उपस्थित थे।

पारंपरिक खेलों को विश्वस्तरीय पहचान देने के लिए अनुसंधान की आवश्यकता

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here