दाड़लाघाट महाविद्यालय में बताया वोट का महत्व

865

सोलन, 11 अक्टूबर। हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के 50-अर्की निर्वाचन क्षेत्र के उप निर्वाचन में अधिक से अधिक मतदाताओं की भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचन सहभागिता कार्यक्रम (स्वीप) के तहत आज अर्की उपमण्डल के अंतर्गत् दाड़लाघाट महाविद्यालय में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। स्वीप कार्यक्रम के तहत स्वीप के नोडल अधिकारी शिव कुमार ने उपस्थित लोगों को लोकतंत्र में अपनी भागीदारी सुनिश्चित बनाने की अपील की।
शिव कुमार ने कहा कि वोट का महत्व समझाने के लिए ‘इन्वीटेशन कार्ड मेकिंग फॉर कास्टिंग वोट’ प्रतियोगिता आयोजित की गई। इस प्रतियोगिता में महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने बढ़चढ़ कर भाग लिया तथा महाविद्यालय के प्राध्यापकांे एवं अन्य कर्मचारियों ने भी प्रतियोगिता के आयोजन में सहयोग किया। प्रतियोगिता के 3 विजेताओं को पुरस्कृत भी किया गया।
शिव कुमार ने कहा कि स्वीप के अंतर्गत् आयोजित की जा रही गतिविधियों का उद्देश्य मतदाताओं को जागरूक बनाकर मतदान की प्रतिशतता में वृद्धि करना है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में एक-एक वोट का महत्व है। इसके लिए आवश्यक है कि युवा पीढ़ी इस दिशा मंे जागरूक हो।
उन्होंने लोगांे से आग्रह किया कि लोकतंत्र में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए मतदान अवश्य करें। उन्होंने कहा कि 50-अर्की विधानसभा क्षेत्र में 950 से अधिक मतदाताओं वाली संख्या वाले मतदान केंद्रों के साथ लोगों की सुविधा के लिए सहायक 22 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं ताकि कोविड-19 के दृष्टिगत भीड़ एकत्र न हो।
इस अवसर मतदाता जागरूकता वाहन के माध्यम से शालाघाट, दानोघाट, कराड़ाघाट, दाड़लाघाट में लोगों को वोट के महत्व की जानकारी प्रदान की गई।
स्वीप टीम द्वारा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला घनागुघाट में भी बच्चों को वोट के महत्व के बारे में जानकारी प्रदान की। तथा बच्चों का आह्वान किया गया कि वे अपने अभिभावकों को वोट डालने के लिए प्रेरित करें।
इस अवसर पर दाड़लाघाट महाविद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ. जनेश कपूर, पुनीत ठाकुर एवं काफी संख्या में छात्र एवं छात्राएं उपस्थित थीं।

ग्राम पंचायत सलोगड़ा में विश्व मानसिकता दिवस पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here