उप चुनावः बारीकी से प्रशिक्षण लें सूक्ष्म पर्यवेक्षक

717

सोलन, 19 अक्टूबर। हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के 50-अर्की निर्वाचन क्षेत्र के उप निर्वाचन के लिए नियुक्त सामान्य पर्यवेक्षक मुंमुंचिंग ने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में सूक्ष्म पर्यवेक्षक अत्यंत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। मुंमुंचिंग कल यहां सूक्ष्म पर्यवेक्षकों के प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित कर रहीं थी।
मुंमुंचिंग ने कहा कि सूक्ष्म पर्यवेक्षक सीधे सामान्य पर्यवेक्षक के नियंत्रण एवं देखरेख में कार्य करते हैं। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म पर्यवक्षकों को सदैव यह स्मरण रखना चाहिए कि वे पर्यवेक्षक हैं और उनका कार्य सभी प्रक्रियाओं का अनुश्रवण करना है।
उन्होंने सूक्ष्म पर्यवेक्षकों को निर्देश दिए कि वे अपने निर्धारित कार्य के लिए जाने से पूर्व निर्वाचन अधिकारी से संचार योजना साथ लेकर जाएं। उन्होंने कहा कि भारत के निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार सूक्ष्म पर्यवेक्षकों को निर्धारित मतदान केंद्रों की जानकारी रेंडम आधार पर उपलब्ध करवाई जाएगी। यह कार्य उनके जाने से एक दिन पूर्व सामान्य पर्यवेक्षक की उपस्थिति में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म पर्यवेक्षकों को निर्धारित मतदान केंद्र पर मतदान आरंभ होने से कम से कम एक घंटे पूर्व अथवा पहले दिन पहुंचना आवश्यक है।
सामान्य पर्यवेक्षक ने कहा कि मतदान के उपरांत सूक्ष्म पर्यवेक्षकांे को अपनी गतिविधियों की जानकारी निर्धारित प्रपत्र पर पर्यवेक्षक को उपलब्ध करवानी होगी।
मुंमुंचिंग ने कहा कि सभी सूक्ष्म पर्यवेक्षकों को मतदान केंद्रों पर केंद्रीय निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्देशांे की पूर्ण अनुपालना सुनिश्चित बनानी होगी। उन्हें मॉक पोल प्रक्रिया सहित अन्य सभी गतिविधियों का पूर्ण अनुश्रवण करना होगा। उन्होंने निर्देश दिए कि सूक्ष्म पर्यवक्षेक निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्देशों के अनुरूप मतदाताओं की पहचान, अनुपस्थित मतदाताओं की जानकारी, गुप्त मतदान इत्यादि पर पूरी नजर रखें। नियम अवहेलना की स्थिति में संचार के उपलब्ध माध्यम द्वारा सामान्य पर्यवेक्षक को तुरंत सूचित करेंगे।
उन्होंने कहा कि सूक्ष्म पर्यवेक्षक निर्विघ्न एवं सुचारू मतदान प्रक्रिया संपन्न करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्होंने सभी सूक्ष्म पर्यवेक्षकों से आग्रह किया कि प्रशिक्षण कार्यक्रम के सभी पहलुओं को बारीकी से समझें ताकि मतदान दिवस पर किसी त्रुटि की गुंजाइश न रहे।
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त कृतिका कुलहरी, अतिरिक्त उपायुक्त जफर इकबाल, तहसीलदार निर्वाचन राजेश तोमर, नायब तहसीलदार दीवान ठाकुर, सूक्ष्म पर्यवेक्षक तथा निर्वाचन विभाग के अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

https://www.aks.news/category/state/himachal-pradesh/

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here