हिमाचल में कोविड टीकाकरण की रणनीति तैयार

893

शिमला, 9 जून। स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने आज यहां कहा कि हिमाचल प्रदेश में कोविड-19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से आरम्भ किया गया है। प्रदेश में लोगों को अब तक 2478330 खुराकें लगाई जा चुकी हैं। इनमें से 2041386 पहली खुराक और 436944 दूसरी खुराक शामिल हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में पात्र आयु समूहों में अधिक से अधिक आबादी का टीकाकरण करने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। राज्य सरकार ने टीकाकरण कार्य में तीव्रता लाने के लिए विभिन्न निर्णय लिए हैं।
उन्होंने कहा कि 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग और प्राथमिकता समूहों, अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ताओं, स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ताओं के लिए सप्ताह में 4 दिन मंगलवार, बुधवार, शुक्रवार और शनिवार को टीकाकरण सत्र आयोजित किए जाएंगे। जबकि सोमवार और बृहस्पतिवार के दिन 18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग के लिए आरक्षित रहेंगे। उन्होंने कहा कि 45 वर्ष या इससे अधिक आयु वर्ग के अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ताओं, स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ताओं व प्राथमिकता वाले समूहों के लाभार्थी 19 जून से पहले टीके की पहली खुराक लगवा सकते हैं।
प्रवक्ता ने कहा कि 18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग के लाभार्थियों के लिए 14 व 17 जून (सोमवार और बृहस्पतिवार) को टीकाकरण सत्र आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिलों को 18 से 44 वर्ष की आबादी के अनुपात के आधार पर वैक्सीन का आवंटन किया गया है। राज्य में जिलों के लिए पहले से स्थापित तंत्र के अनुसार वैक्सीन आपूर्ति को बनाए रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा जनजातीय व दुर्गम क्षेत्रों के लिए तैयार की गई रणनीति के अनुसार ही टीकों का उपयोग किया जाएगा। जनजातीय, दुर्गम क्षेत्रों में स्थानीय प्रशासन के सहयोग से ऑनसाइट पंजीकरण सुविधा द्वारा टीकाकरण सत्र आयोजित किया जा सकता है जबकि अन्य क्षेत्रों में सत्रों को ऑनलाइन बुक करना आवश्यक होगा। टीकाकरण के लिए सत्र का शेड्यूल टीकाकरण की तिथि से दो दिन पहले दोपहर 2.30 बजे से 3 बजे के बीच जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रकाशित किए जाएंगे।

कोविड टीकाकरण कार्यक्रम के कार्यान्वयन के लिए संशोधित दिशानिर्देश

प्रवक्ता ने कहा कि 14 जून को प्रदेश के विभिन्न जिलों में कुल 266 व 17 जून को 261 टीकाकरण सत्र आयोजित किए जाएगे। इनमें जिला बिलासपुर में 14 जून को 14 सत्र व 17 जून को 14 सत्र, चंबा में 14 जून को 19 सत्र व 17 जून को 20 सत्र, हमीरपुर में 14 जून को 16 सत्र व 17 जून को 15 सत्र, कांगड़ा में 14 जून को 59 सत्र व 17 जून को 58 सत्र, किन्नौर में 14 जून को 4 सत्र व 17 जून को 3 सत्र, कुल्लू में 14 जून को 17 सत्र व 17 जून को 16 सत्र, लाहौल स्पीति में 14 जून को एक सत्र व 17 जून को एक सत्र, मंडी में 14 जून को 39 सत्र व 17 जून को 39 सत्र, शिमला में 14 जून को 33 सत्र व 17 जून को 32 सत्र, सिरमौर में 14 जून को 22 सत्र व 17 जून को 21 सत्र, सोलन में 14 जून को 24 सत्र व 17 जून को 24 सत्र, ऊना में 14 जून को 18 सत्र व 17 जून को 18 सत्र आयोजित किए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here