कोरोनाः भंगरोटू में बन रहा मेक शिफ्ट अस्पताल लगभग तैयार

1296

मंडी, 10 मई। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के भंगरोटू में कोरोना मरीजों के लिए बन रहा मेक शिफ्ट अस्पताल लगभग तैयार हो चुका है। निर्माण के अंतिम चरण में ऑक्सीजन स्पलाई को लेकर टैस्टिंग प्रक्रिया चालू है। इसके उपरांत मेडिकल टीम द्वारा अस्पताल का निरीक्षण कर इसे आरंभ कर दिया जाएगा।

उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने रविवार को बताया कि मेक शिफ्ट अस्पताल भंगरोटू में 90 आक्सीजन युक्त बिस्तरों की सुविधा होगी। इसमें सेंट्रल ऑक्सीजन सप्लाई की व्यवस्था रहेगी। इसके अलावा यहां मरीजों के लिए आईसीयू सुविधा भी मुहैया होगी। इसके चालू होने से नेरचौक अस्पताल पर मरीजों की संख्या का दबाव कम होगा।

स्वास्थ्य सुविधाओं के तेजी से विस्तार पर विशेष ध्यान
उपायुक्त ने बताया कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के निर्देशानुसार मंडी जिले में कोविड की चुनौती का पूरी मजबूती से मुकाबला करने के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं के तेजी से विस्तार पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।
ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि भंगरोटू के अलावा खलियार में बन रहे मेक शिफ्ट कोविड अस्पताल का दिन रात काम चल रहा है। 15 मई तक इसे पूरा कर लिया जाएगा। 200 बिस्तरों के इस अस्पताल में हर बेड पर सेंट्रल ऑक्सीजन सुविधा के जरिए ऑक्सीजन सप्लाई दी जाएगी।

वहीं, मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डॉ. देवेंद्र शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री ठाकुर के निर्देशानुरूप जिले में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की संख्या में चरणबद्ध तरीके से बढ़ोतरी की जा रही है। इस क्रम में अन्य जगहों के अलावा अब सरकाघाट, करसोग व जोगिंदरनगर में भी 10-10 ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की ट्रांजिट सुविधा विकसित की गई है।

उन्होंने बताया कि श्री लाल बहाुदर शास्त्री राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल नेरचौक में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की सुविधा को 120 बिस्तरों से बढ़ा कर 220 किया गया है। आगे इसे बढ़ा कर 300 करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

डॉ. देवेंद्र शर्मा ने बताया कि बीबीएमबी अस्पताल सुंदरनगर में 40, मातृ-शिशु अस्पताल सुन्दरनगर में 50 ऑक्सीजन युक्त बिस्तर हैं। नागरिक चिकित्सालय रत्ती में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की संख्या को 25 से बढ़ा कर 45 किया गया है।

उन्होंने बताया कि जिले में वर्तमान में कोरोना के 3,256 एक्टिव मामले हैं। जिनमें से 3,053 कम लक्षण वाले रोगियों को होम आईसोलेशन में रखा गया है, 197 रोगी जिला के विभिन्न कोविड अस्पतालों में उपचाराधीन हैं। उन्होंने कहा कि जिले में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की पूरी व्यवस्था है और किसी तरह की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ठाकुर के निर्देशानुरूप जिले में तमाम संसाधनों और व्यवस्थाओं की मजबूती के साथ-साथ नई स्वास्थ्य सुविधाओं का विकास किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here