नींव छोड़ चलने लगा मकान, 120 फीट दूर होगा स्थापित

729

मंडी, 29 मई (मुरारी शर्मा)। अक्सर सुनने में आता है कि कोई मकान, मंदिर या अन्य निर्माण अपनी जगह से उठाकर दूसरी जगह पर जाकर स्थापित कर दिया गया। ऐसी खबरें मैदानी इलाकों से अक्‍सर सुनने को मिलती हैं, मगर हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में ऐसा प्रयास देख कर लोग रोमांचित और अचंभित हो गए। मंडी जिले में कुल्लू की सीमा पर नेशनल हाइवे 21 को फोरलेन बनाने के चलते नगवाईं गांव के राजेश शर्मा का मकान सड़क के साथ आ गया और सड़क से नीचे हो गया। राजेश शर्मा ने भी ऐसा समाचार सुन रखे थे और इस तकनीक के सहारे अपने मकान को बचाने की कवायद शुरू की। अभी कुछ अर्सा पहले बनाए गए नए मकान को टूटने से बचाने के लिए उन्‍होंने ठेकेदार हरमेंद्र से संपर्क किया। हरमेंद्र ने उसके मकान को दूसरी जगह पर बदल देने की हामी भरी।

कोरोनाः 39 हुए स्वस्थ, 33 नए केस

अब इस मकान को दूसरी जगह शिफ्ट करने का काम तेजी से जारी है। मकान अब तक अपनी जगह से खिसक कर 6 फीट आगे पहुंच चुका है। कुछ ही महीनों में इसे धीरे-धीरे मूल स्थान से 120 फीट आगे नई फाउंडेशन पर रख दिया जाएगा। इसे खिसकाना शुरू करने से पहले इसके नीचे जैक सिस्टम फिट करके इसे तीन फीट ऊपर किया गया है। फिर इसके साथ चैनल जोड़े गए जिनके माध्यम से अब इसे आगे खिसकाने का क्रम जारी है। राजेश शर्मा ने बताया कि अभी तक मकान को मूल स्थान से करीब छह फीट से ज्यादा ले जा गया है। कुछ ही दिनों में वे इस मकान को दूसरे स्थान पर नई फाउंडेशन पर स्थापित कर देंगे।

राजेश शर्मा ने बताया कि घर को एक स्थान से दूसरे स्थान पर बदलने का उनका करीब आठ लाख रुपये तक खर्च आएगा। राजेश ने बताया कि ठेकेदार ने उन्हें विश्वास दिलाया है कि उनका मकान 60 से 70 दिनों के बीच में नए स्थान पर स्थापित कर दिया जाएगा। वहीं राजेश शर्मा का मकान इन दिनों लोगों में खासी चर्चा बना हुआ हैं। कई लोग इसे देखने के लिए यहां आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here