सीएम ने एमएसपी बढ़ाने के लिए पीएम का आभार जताया

609

शिमला, 10 जून। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने विपणन सीजन 2021-22 के लिए सभी निर्धारित खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में गत दिवस नई दिल्ली में आयोजित आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने इस संबंध में निर्णय लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार ने यह निर्णय किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य सुनिश्चित करने के उद्देश्य से लिया है। पिछले वर्ष की तुलना में धान का एमएसपी 1,868 रुपये प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 1,940 रुपये जबकि ए ग्रेड धान का मूल्य 1,888 रुपये से बढ़ाकर 1,960 रुपये किया गया है।
ठाकुर ने कहा कि मक्की का एमएसपी 1,850 रुपये से बढ़ाकर 1,870 रुपये किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को इन फसलों को व्यापक स्तर पर उगाने के लिए प्रोत्साहित करने तथा मांग व आपूर्ति में संतुलन बनाने के लिए श्रेष्ठ तकनीकों तथा कृषि अपनाने के लिए सभी बीजों, दालों तथा मोटे अनाजों के एमएसपी को पुनः निधारित करने के लिए गत वर्षों के दौरान ठोस प्रयास किए गए हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है तथा उनके सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए विभिन्न योजनाएं आरम्भ की गई हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र किसानों को 6,000 रुपये प्रति वर्ष प्रदान किए जा रहे है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत प्रदेश के 9,26,963 पात्र किसान लाभान्वित हो रहे हैं।
ठाकुर ने कहा कि केन्द्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत इस वर्ष नवम्बर माह तक पात्र परिवारों को निःशुल्क राशन प्रदान करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत प्रदेश के 28 लाख से अधिक लोग लाभान्वित होंगे।

ओक ओवर की नव गृह वाटिका में पौधरोपण किया
मुख्यमंत्री ठाकुर ने आज यहां ओक ओवर की नव गृह वाटिका में बुटिया फ्रोंडोसा कोएनेक्स (पलाश), अकेशिया केचु (खैर), अचिरांथस एस्पेरा (अपामार्ग), फिकस रिलिजिओसा (पीपल), फिकस ग्लोमेराटा (गुलर), प्रोसोपिस स्पाइसीगेरा (शम्मी), साइनोडोन डैक्टाइलान (दूब), सैकरम सिलैंड्रिकस (कुश) और कैलोट्रोपिस प्रोसेरा (मद्दर) के पौधे रोपित किए। इस अवसर पर राज्य रेडक्रास अस्पताल कल्याण अनुभाग की अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी डॉ. साधना ठाकुर, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल और प्रधान मुख्य अरण्यपाल डॉ. सविता भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

तीन और श्रेणियां वैक्‍सीन प्राथमिकता में शामिल, रेमडेसिविर पर परामर्श

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here