केंद्रीय विश्वविद्यालय पर नहीं चलेगी दोहरी नीति: कांग्रेस

931

धर्मशाला, 11 जून। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता डॉ. राजेश शर्मा ने कहा कि कोरोना की आड़ में राज्य की भाजपा सरकार विकास कार्यों में भेदभाव कर रही है। उन्होंने केंद्रीय विश्वविद्यालय के मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए कहा कि देहरा में तो भूमि संबंधी काम पूरा कर लिया है, लेकिन धर्मशाला के काम को जानबूझकर लटकाया जा रहा है। डॉ. शर्मा ने कहा कि इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर स्पष्ट करें कि देहरा और धर्मशाला के लिए आखिर दोहरी नीति क्यों अपनाई जा रही है। एक दशक से लटकी इस महत्वाकांक्षी परियोजना के कार्य को आखिर धर्मशाला में क्यों रोका जा रहा है।
कांग्रेस प्रवक्‍ता ने कहा कि कांग्रेस कार्यकाल में धर्मशाला के जदरंगल में भूमि चयनित करके दे दी गई थी अब केंद्र और राज्य में डबल इंजन की सरकार का दावा करने वाले भाजपा के लोग देहरा व धर्मशाला में डबल इंजन बनाने से क्यों घबरा रहे हैं। दोनों स्थानों पर काम क्यों शरू नहीं किया जा रहा है। डॉ. राजेश ने कहा कि कांगड़ा हिमाचल का सबसे बड़ा जिला है और इसकी अनदेखी किसी भी सूरत में सहन नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि भले ही कांगड़ा के भाजपा नेता इस मामले में लापरवाही दिखा रहे हों, लेकिन कांग्रेस के कार्यकाल में केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने का जो निर्णय हुआ था उसके लिए पार्टी इसके भवन निर्माण तक लड़ाई लड़ती रहेगी। छात्र और युवाओं से सौतेला व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने सरकार से युवाओं को वैक्सीनेशन करने के लिए जल्द शेड्यूल तय करने और विकास कार्य में बिना भेदभाव के एक समान कार्य करने के लिए आवाज उठाई है। उन्‍होंने कहा कि कांगड़ा की सभी महत्वाकांक्षी परियोजनाओं पर जयराम सरकार अपना स्टैंड स्पष्ट करे अन्यथा आने वाले दिनों में जब हालात सामान्य होंगे तो कांग्रेस आंदोलन का रास्ता अख्तियार करेगी। कांगड़ा से भेदभाव किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जाएगा।

कोरोना पॉजिटिव बच्‍चों को लेकर एडवाइजरी जारी, ब्‍लैक फंगस से सावधान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here