कोरोना फैला कर सबसे अधिक लाभ कमा रहा चीन

479

– चाइनीज वैक्सीन साइनोफार्मा सबसे महंगी

भारत में कोरोना से मौत का तांडव है तो चीन जश्न मना रहा है। चीन के वुहान लैब से फैले कोरोना ने विश्व भर में तबाही मचाई है। विश्व में कोरोना की जितनी भी वैक्सीन है, चीन की वैक्सीन सबसे महंगी है। क्योंकि चीन जानता है कि मजबूरी में देशों को वैक्सीन खरीदनी होगी। वैक्सीन के मांग और आपूर्ति के अंतर को देखते हुए चीन अवसरवादी बन गया है।

खुशखबरीः कोरोना पर वार करने वाली स्वदेशी दवा लांच, ऑक्सीजन ले रहे मरीज भी हुए ठीक, जानें इसके बारे में…

चीन की वैक्सीन कितनी असरदार है इसका कोई प्रमाण नहीं। ब्राजील में तो इसको 50 प्रतिशत ही प्रभावी माना गया। इसके बावजूद डब्ल्यूएचओ ने इसको मंजूरी दी है। चूंकि चीन और भारत में ही वैक्सीन का उत्पादन सबसे अधिक होगा और भारत में मांग के मुकाबले में आपूर्ति कम है तो अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसका सीधा लाभ चीन को ही मिलेगा। बाजार में साइनोफार्म 62 डालर की है जो कि सभी वैक्सीन के मुकाबले महंगी है। इसके बाद मार्डना 31 डालर, फाइजर 14 डालर, जम्मूएडं जम्मू 9 डालर, भारत बायोटेक 6 डालर और एस्ट्रोजेकिना की 5 डालर कीमत है।

[वरिष्‍ठ पत्रकार गुणानंद जखमोला की फेसबुक वॉल से साभार]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here