नहीं रहे फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह

2961
photo source: social media

नई दिल्ली, 18 जून। कोरोना की वजह से आज एक और सितारा हमेशा-हमेशा के लिए आसमान पर चमकने के लिए इस दुनिया से विदा हो गया। एथलीट की दुनिया में देश का नाम रोशन करने वाले 91 वर्षीय फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह ने आज देर रात पीजीआई चंडीगढ़ में अंतिम सांस ली। कोरोना की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद मिल्खा सिंह को सामान्य आईसीयू में शिफ्ट किया गया था। इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धावक मिल्खा सिंह के निधन पर शोक जताया है। देश-दुनिया में मिल्खा सिंह के तमाम चाहने वाले उनके निधन पर शोक प्रकट कर रहे हैं।

मिल्खा सिंह 19 मई को कोरोना संक्रमित हुए थे। जिसके बाद उड़न सिख के नाम से मशहूर मिल्खा सिंह को मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालत सुधरने के बाद परिजनों के अनुरोध पर उन्हें घर पर शिफ्ट कर दिया गया था। उनकी डॉक्टर बेटी अमेरिका से चंडीगढ़ आ गई थीं और वही उनका ख्याल रख रही थीं। मिल्खा सिंह की तबीयत तीन जून को फिर बिगड़ गई थी। जिसके बाद उन्हें पीजीआई चंडीगढ़ में भर्ती कराया गया था। पीजीआई में बुधवार को उनकी कोरोना रिपोर्ट भी नेगेटिव आ गई थी। जिसके बाद उनकी हालत में सुधार देखते हुए आईसीयू से बाहर लाकर कार्डियक सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया था।
आज सुबह उन्होंने कॉफी पी और परिजनों बातचीत भी की। मिल्खा सिंह की सुबह नौ बजे के बाद अचानक तबीयत खराब होने लगी। मिल्खा सिंह को बुखार आया और उनका ऑक्सीजन का स्तर गिर गिर कर 56 तक पहुंच गया था। मिल्खा सिंह का जन्म 20 नवंबर 1929 को पाकिस्तान में हुआ था। मिल्खा सिंह की पत्नी निर्मल कौर का भी कोरोना से हाल ही में निधन हुआ था।

इस बीच, प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्वीट में मिल्खा सिंह के साथ एक तस्वीर शेयर करते हुए अपना शोक व्यक्त किया है।

IND vs NZ WTC Final 2021: बारिश की भेंट चढ़ा पहला दिन, देखें कैसे समय बिता रहे थे टीम इंडिया के सदस्य

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here