कोरोनाः स्वास्थ्य संस्थानों में बिस्तरों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित हो

521

सोलन, 11 मई। उपमण्डलाधिकारी कण्डाघाट डॉ. विकास सूद ने सोमवार को कोविड-19 से बचाव के लिए गठित खण्ड स्तरीय कार्यबल के साथ बैठक की।

डॉ. सूद ने खण्ड चिकित्सा अधिकारी सायरी से उपमण्डल के विभिन्न चिकित्सा संस्थानों में दवाइयों, सेनेटाइजर, ऑक्सीमीटर, ऑक्सीजन सिलेंडर तथा अन्य उपकरणों की मात्रा के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि यदि किसी भी स्वास्थ्य संस्थान में आवश्यक उपकरणों की कमी है तो ऐसे सामान को स्टॉक में रखें, ताकि किसी आपात स्थिति में परेशानी का सामना न करना पड़े।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य संस्थानों में बिस्तरों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित बनाई जाए। उन्होंने कहा कि यदि किसी क्षेत्र में कोविड-19 के अधिक मामले सामने आ रहे हैं तो इसकी जानकारी तुरंत प्रशासन को प्रदान करना सुनिश्चित करें, ताकि इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन या सूक्ष्म कंटेनमेंट जोन घोषित किया जा सके।

उपमण्डलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण के लिए अधिक से अधिक लोगों को प्रेरित किया जाए। उन्होंने कहा कि कण्डाघाट में 8030 लाभार्थियों को कोविड-19 टीकाकरण की पहली डोज तथा 1113 लाभार्थियों को दूसरी डोज दी जा चुकी है।

डॉ. सूद ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि समय-समय पर बाजारों का औचक निरीक्षण किया जाए ताकि कोरोना र्क्फ्यू में लगाई गई पाबदियांे का पालन सुनिश्चित हो। उन्होंने सभी व्यावसायियों से आग्रह किया सभी दुकानें तय समय पर ही खोलें और बंद करें, ताकि कोविड-19 की महामारी की इस श्रृंखला को तोड़ा जा सके। उन्होंने कहा कि अग्निशमन सेवा के माध्यम के माध्यम से कण्डाघाट के बाजार को सेनेटाइज करवाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति प्रदेश सरकार एवं प्रशासन द्वारा समय-समय पर जारी दिशानिर्देशांे का उल्लंघन करता हुआ पाया गया तो उसके विरूद्ध उचित कार्रवाई की जाएगी।

इस मौके पर तहसीलदार कण्डाघाट अमन राणा, खण्ड चिकित्सा अधिकारी सायरी डॉ. संगीता उप्पल, सीडीपीओ पवन कुमार और पुलिस विभाग से एएसआई नरेंद्र कुमार भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here