कोरोनाः 11 माह की बच्ची व 99 वर्षीय वृद्धा समेत 4059 हुए स्वस्थ, 59 की मौत, 155 बच्चे भी चपेट में

565

शिमला, 23 मई। हिमाचल प्रदेश में रविवार को कोरोना संक्रमित 59 मरीजों की मौत हुई। प्रदेश में आज कोरोना संक्रमण के 1332 नए मामले सामने आए हैं। इनमें 155 बच्चे भी शामिल हैं। प्रदेश में 11 माह की बच्ची और 99 वर्षीय महिला समेत 4059 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ हुए। प्रदेश में आज मात्र 7552 लोगों के ही कोरोना सैंपल लिए गए।

प्रदेश में आज भी कोरोना से सर्वाधिक मौत 16 मौतें कांगड़ा जिले में हुई हैं। इसके अलावा सोलन व बिलासपुर में 3-3, हमीरपुर में 4, शिमला में 9, सिरमौर में 5, ऊना में 4, मंडी में 8, कुल्लू व किन्नौर में 1-1 और चंबा में कोरोना संक्रमण से 5 मरीजों की मौत हुई।

कोरोनाः 6 संक्रमित

इस बीच, स्टेट सीआईडी की पंडोह सब यूनिट में तैनात कोरोना संक्रमित 54 वर्षीय सब इंस्पेक्टर की मौत हो गई। सब इंस्पेक्टर को नेरचौक मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। डीजीपी संजय कुंडू और आला पुलिस अधिकारियों ने उनके निधन पर शोक जताया है।

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार आज सोलन जिले में कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक 241 मामले सामने आए हैं। इसके अलावा शिमला में 215, मंडी में 144, चंबा में 80, बिलासपुर में 51, सिरमौर मे 110, कुल्लू में 29, ऊना में 105, हमीरपुर में 122, कांगड़ा में 222 (यह 41 दिनों में सबसे कम आंकडा है), लाहौल-स्पीति में 7 और किन्नौर में कोरोना संक्रमण के 6 नए मामले सामने आए हैं।

प्रदेश में अब बच्चे भी कोरोना की दूसरी लहर से अछूते नहीं है। कांगड़ा में तो दो से सात माह के पांच बच्चे भी कोरोना की चपेट में आए हैं। कांगड़ा जिले में 18 वर्ष से कम आयु के आज कोरोना संक्रमण के सबसे अधिक 31 मामले सामने आए हैं। इसके अलावा हमीरपुर में 26, चंबा में 25, मंडी में 19, ऊना में 18, सोलन में 6, बिलासपुर में 15, कुल्लू में 5, सिरमौर में 2 और शिमला में कोरोना संक्रमण की चपेट में 8 बच्चे आए हैं।

इस बीच, चंबा जिले के भुनाड क्षेत्र निवासी 11 माह की बच्ची आज कोरोना संक्रमण से मुक्त हो गई। बच्ची के दिल में छेद भी है। बच्ची को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद 15 मई को डीसीएचसी डलहौजी में भर्ती कराया गया था। एसएमओ डॉ. बिपिन ठाकुर के अनुसार दिल में छेद के कारण कोरोना संक्रमित बच्ची को सांस लेने में भी दिक्कत आ रही थी। अस्पताल के डॉक्टरों ने बच्ची का बेहद ध्यान रखा। बच्ची की मां भी कोरोना पॉजिटिव है, जिसका इलाज चल रहा है।

उधर, शिमला जिले में कोटखाई की 99 वर्षीय सुवदा देवी और उनकी 59 वर्षीय बेटी भी कोरोना से जंग जीत गई। दोनों को रिपन अस्पताल शिमला में भर्ती कराया गया था। वहीं, मंडी जिले के धर्मपुर में ब्रिटिश आर्मी में सैनिक रहे स्व. हीरा सिंह की 93 वर्षीय पत्नी रोशनी देवी ने होम आइसोलेशन में कारोना को मात दी। स्वस्थ होने के बाद रोशनी देवी ने कहा कि अगर महामारी को हराना है तो भय को खुद पर हावी न होने दो। रोशनी देवी और उनके दोनों बेटों 62 वर्षीय दिव्यांग ओमा दत्त भरमोरिया और 57 वर्षीय अमृत लाल 20 दिन पहले कोरोना पॉजिटिव आए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here