प्रदेश में 8 जून तक होगा ई-पीटीएम का आयोजन

624

शिमला, 4 जून। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने आज यहां हर घर पाठशाला 2.0 कार्यक्रम और ई-पीटीएम का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि पूर्व में आयोजित की गई ई-पीटीएम के माध्यम से मिले सुझावों पर कार्य करते हुए इस बार ई-पीटीएम को और अधिक परस्पर संवादात्मक रखा गया है। प्रदेशभर में 5 से 8 जून तक ई-पीटीएम का आयोजन करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के लिए तकनीक के माध्यम से बदलते परिवेश के साथ सार्वभौमिक शिक्षा का प्रसार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ई-पीटीएम अध्यापकों, विद्यार्थियों तथा उनके अभिभावकों के मध्य संवाद स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता का विषय है कि कोविड-19 की इस महामारी के दौरान भी हमारे विद्यार्थी पढ़ाई से जुड़ी चुनौतियों का सकारात्मकता के साथ सामना कर रहे हैं।
गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा कि इस कार्यक्रम के पहले चरण को विभिन्न मंचों पर सराहा गया है। इस कार्यक्रम के माध्यम से यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि इस महामारी के दौरान विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित न हो। प्रदेश के लगभग 18 हजार विद्यालयों में आठ लाख से अधिक विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के रिसोर्स ग्रुप के अध्यापकों के माध्यम से पाठ्यक्रम को रूचिकर बनाए जाने के निरंतर प्रयास किए जाते हैं और विद्यार्थियों के शारीरिक स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए शारीरिक गतिविधियों पर आधारित प्रारूप भी तैयार किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना बनी गरीब परिवारों का सहारा

उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के अभिभावक बढ़-चढ़कर ई-पीटीएम में भाग लें और अपने सुझाव रखें। शिक्षा मंत्री ने 5 जून को विद्यार्थियों को पर्यावरण दिवस के अवसर पर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कुछ विशेष कार्य करने का आग्रह किया। बैठक की कार्यवाही का संचालन समग्र शिक्षा अभियान के परियोजना निदेशक वीरेंद्र शर्मा ने किया। निदेशक उच्चतर शिक्षा डॉ. अमरजीत सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here