ब्लैक-व्हाइट के बाद अब आया ग्रीन फंगस, यहां मिला पहला मरीज

662
photo source: twitter/ani

इंदौर, 15 जून। कोरोना महामारी की दूसरी लहर जहां देश में कहर बन कर आई, वहीं, इसके दुष्परिणाम ब्लैक फंगस और व्हाइट फंगस के रूप में सामने आए। अब इसका एक और दुष्परिणाम ग्रीन फंगस के रूप में सामने आया है। देश में ग्रीन फंगस का ये पहला मामला मध्यप्रदेश के इंदौर में सामने आया है। जिसके बाद इसके मरीज को मुंबई के हिंदुजा अस्पताल भेज दिया गया।

इंदौर में स्वास्थ्य अधिकारी अपूर्वा तिवारी ने बताया कि हमें अरविंदो अस्पताल से एक 33 वर्षीय व्यक्ति के फेफड़ों की जांच में एक ग्रीन रंग का फंगस मिला, उसके रंग के आधार पर उसे ग्रीन फंगस का नाम दे रहे हैं। यह देश में इस तरह का पहला मामला है। मरीज को मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।
ग्रीन फंगस के देश के इस पहले मरीज में कोरोना संक्रमित होने के बाद पोस्ट कोविड के लक्षण मिले थे। लगभग डेढ़ महीने पहले उसे पहली बार अरविंदो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उस समय उसके दाएं फेफड़े में मवाद भरा था। अस्पताल में उसके मवाद को निकाला गया। मवाद निकाले जाने के बाद भी मरीज की हालत में सुधार नहीं हुआ था। मरीज का बुखार 103 डिग्री से कम नहीं हो रहा था। जिसके बाद मरीज को आज चार्टर्ड प्लेन से मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया।

कोरोनाः 9 ने तोड़ा दम, 326 हुए संक्रमित

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here