10 दिन के भीतर पालकवाह में 35 अतिरिक्त बेड की व्यवस्था हुईः डीसी

753

ऊना, 11 मई। पालकवाह में कोरोना मरीजों के लिए बनाए गए मेक शिफ्ट अस्पताल में 35 अतिरिक्त बेड की व्यवस्था 10 दिन के भीतर कर दी गई है तथा सभी बेड पर मरीजों को ऑक्सीजन की सप्लाई भी मिलेगी। यह जानकारी देते हुए उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने कहा कि पालकवाह में कोरोना संक्रमितों के लिए ऑक्सीजन युक्त 51 बेड पहले से उपलब्ध हैं तथा अब 35 अतिरिक्त बेड की व्यवस्था की गई है, जिसके उपरांत अब पालकवाह में कुल 86 बेड हो गए हैं।

डीसी ने कहा कि जिला में पालकवाह व हरोली को मिलाकर अब कोरोना संक्रमितों के लिए 131 बेड की व्यवस्था हो गई है। इनमें से अभी तक 82 बेड मरीजों के लिए उपयोग किए जा रहे हैं, जबकि 49 खाली हैं। उन्होंने कहा कि बढ़ते हुए कोरोना मामलों को देखते हुए पंडोगा में भी 200 बेड का कोविड अस्पताल बनाने की प्रक्रिया चल रही है, जिसे जल्द से जल्द पूरा करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

राघव शर्मा ने कहा कि जिला ऊना में ऑक्सीजन की भी पर्याप्त मात्रा उपलब्ध है। जिला में अभी 150 ऑक्सीजन सिलेंडर की आवश्यकता रहती है, जबकि हमारे पास गगरेट के ऑक्सीजन प्लांट में 300 सिलेंडर का बफर स्टॉक है, जिसे आवश्यकतानुसार बढ़ाया जा सकता है। इसके अतिरिक्त जल्द ही क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में भी ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए एक टीम जिला का दौरा करेगी। प्रदेश सरकार ने ऊना में प्लांट लगाने को मंजूरी दे दी है।
जिलाधीश ने कहा कि जिला प्रशासन निरंतर हालात में नजर बनाए हुए हैं। कोविड टेस्ट की रिपोर्ट में हो रही देरी को देखते हुए जिला ऊना में एक आरटी-पीसीआर लैब भी स्थापित करने को मंजूरी प्रदान कर दी गई है, जिस पर लगभग 4 करोड़ रुपए खर्च होंगे तथा इससे कोरोना संक्रमितों की पहचान करने में तेजी आएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here