‘विवादित बयानों की क्वीन’ कंगना के विरोध में क्यों लगे गो बैक के नारे…

83
photo source: twitter/@KanganaDaily

काजा, 20 मई। ‘विवादित बयानों की क्वीन’ कंगना रनौत का आज बौद्ध बहुल काजा में जबरदस्त विरोध हुआ। यहां के निवासी दलाईलामा पर किए गए कंगना के एक मीम से अब तक आहत हैं, बेशक बॉलीवुड क्वीन पिछले महीने ही धर्मगुरु दलाईलामा से मिल कर अपनी सफाई दे चुकी थी। कंगना चेतावनी के बावजूद आज यहां चुनाव प्रचार के लिए पहुंची थी।
भाजपा ने इस विरोध प्रदर्शन का सारा ठीकरा कांग्रेस पर फोड़ा है और अपने एक कार्यकर्ता के घायल होने का आरोप भी राज्य में सत्तारूढ़ दल पर लगाया है।

कंगना गो बैक
हिमाचल प्रदेश की मंडी संसदीय क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (BJP) की प्रत्याशी कंगना आज जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति के दौरे पर थीं। पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी उनके साथ थे। स्थानीय लोगों ने उनकी गाड़ियों को रोक कर काले झंडे दिखाते हुए कंगना रनौत गो बैक के जबरदस्त नारे लगाए। लोगों का विरोध इतना जबरदस्त था कि पुलिस को उनको रोकने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं और विरोध कर रहे लोगों के बीच हल्की झड़प भी देखने को मिली। इसमें एक भाजपा कार्यकर्ता घायल बताया जा रहा है।

सरकार पर साधा निशाना
नेता प्रतिपक्ष जय राम ठाकुर ने इस पूरे घटनाक्रम पर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। जयराम ने कहा कि उन्होंने अपने लंबे राजनीतिक जीवन में कई चुनाव देखे हैं, लेकिन आज से पहले कभी ऐसा नहीं देखा। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को समानांतर प्रदर्शन करने की अनुमति दी थी, जबकि ऐसा सामान्य तौर पर नहीं होता है। उन्होंने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से भी करने की बात कही।
उन्होंने इस मामले में सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की। ठाकुर ने कहा कि ये घटनाक्रम कांग्रेस सरकार की बौखलाहट को दिखाता है। कांग्रेस प्रदेश में गलत तरह की राजनीति को जन्म देने का काम कर रही है। जयराम ठाकुर ने आरोप लगाया कि इसमें उनके एक कार्यकर्ता की टांगों में चोट लगी है।

क्या था विवाद
अपने कई बेतुके बयानों की वजह से आमजन के बीच कंगना अब ‘बचकानी बयानों की मल्लिका’ भी कहलाई जाने लगी है। कंगना ने दलाईलामा को लेकर पिछले साल एक ऐसा ही विवादित मीम शेयर किया था। जिसमें दलाईलामा और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन का एक एडिटेड फोटो दिख रहा था। इसमें बाइडेन किस की मुद्रा में दिखाई दे रहे थे और उनके चेहरे के सामने दलाईलामा अपनी जीभ बाहर किए हुए थे। कंगना ने इस फोटो को शेयर करते हुए लिखा था, ‘दोनों को एक ही बीमारी है, इसलिए दोनों की दोस्ती हो सकती है।’ इसी पोस्ट के बाद बवाल मच गया था। बौद्ध धर्म से जुड़े लोगों ने इसके विरोध में प्रदर्शन किए थे।
विवाद बढ़ता देख कंगना ने सोशल मीडिया के जरिए कहा था, ‘मेरा मकसद किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था। ये दलाईलामा और जो बाइडेन के बारे में किया गया हार्मलेस मजाक था। कृपया इसे दिल से न लें।’
कंगना का ये मीम उस विवाद के बाद आया था, जिस कार्यक्रम में दलाईलामा एक बच्चे को किस करते हुए नजर आए थे। बाद में दलाईलामा ने इस पर खेद संदेश जारी किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here