आखिर इन दिव्यांग बच्चों की क्यों नहीं सुनी जा रही?

216
  • सरकार ने जो फोन दिये, कुछ ही दिन में खराब हो गये
  • एनआईवीएच में आंदोलन की तैयारी में 12वीं के छात्र

राष्ट्रीय दृष्टिबाधित संस्थान के 12वीं के छात्र पिछले लंबे समय से अपने खराब फोन ठीक कराने के लिए संस्थान से गुहार लगा रहे हैं लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। इनको यह फोन एडिप्स योजना के तहत एलजी मेक के दिये गये थे। दृष्टि बाधित छात्रों को दिये गये इस फोन में टॉक बैक फीचर होता है। इससे उनको मोबाइल से सारी बातें ही पता चल जाती हैं। इन बच्चों को 2021 में यह फोन दिये गये थे लेकिन उनका आरोप है कि कुछ समय में यह फोन खराब हो गये। 22 बच्चों के फोन खराब हो गये और लगभग एक साल से फोन ठीक कराने की मांग कर रहे हैं।
आज इनके सब्र का बांध टूट रहा है। इन छात्रों ने आज संस्थान का मुख्य कार्यालय बंद करने की ठानी है। मेरा संस्थान और दिव्यांगों के लिए काम करने वाले संस्थाओं से अपील है कि इन बच्चों के मोबाइल ठीक करा दिये जाएं। दुनिया को जानने-समझने के लिए इनके पास एकमात्र यही सहारा है।
[वरिष्‍ठ पत्रकार गुणानंद जखमोला की फेसबुक वॉल से साभार]

सिक्स सिग्मा टीम की निरंतर हो मानीटरिंग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here