अमरनाथ यात्रा 1 जुलाई से, इस दिन से होगा पंजीकरण

377

जम्मू, 15 अप्रैल। अमरानाथ यात्रा इस बार 1 जुलाई से आरंभ होगी। इस बार यात्रा की अवधि 62 दिन की होगी। यात्रा का समापन 31 अगस्त को होगा।
जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने बताया कि प्रशासन सुचारू और परेशानी मुक्त तीर्थ यात्रा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने बताया कि श्री अमरनाथ यात्रा के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन मोड के माध्यम से पंजीकरण 17 अप्रैल से शुरू होगा।
उपराज्यपाल ने कहा कि प्रशासन आने वाले सभी भक्तों और सेवा प्रदाताओं को सर्वोत्तम श्रेणी की स्वास्थ्य सेवा और अन्य आवश्यक सुविधाएं प्रदान करेगा। उन्होंने कहा, “तीर्थयात्रा शुरू होने से पहले दूरसंचार सेवाओं को चालू कर दिया जाएगा। यात्रा के सुचारू संचालन के लिए आवास, बिजली, पानी, सुरक्षा और अन्य व्यवस्थाओं की सुविधा सुनिश्चित करने के लिए सभी हितधारक विभाग समन्वय से काम कर रहे हैं।“
उन्होंने कहा कि यात्रा दोनों मार्गों अनंतनाग जिले के पहलगाम ट्रैक और गांदरबल जिले के बालटाल से एक साथ शुरू होगी। उन्होंने अधिकारियों को स्वच्छता के उच्च स्तर को सुनिश्चित करने और स्वच्छता और अपशिष्ट प्रबंधन के लिए आवश्यक हस्तक्षेप करने का भी निर्देश दिया। अमरनाथजी श्राइन बोर्ड दुनिया भर के भक्तों के लिए सुबह और शाम की आरती (प्रार्थना) का सीधा प्रसारण भी करेगा, जबकि यात्रा, मौसम के बारे में वास्तविक समय की जानकारी प्राप्त करने और कई लाभ उठाने के लिए श्री अमरनाथ यात्रा का ऐप गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध कराया गया है।
उपराज्यपाल की अध्यक्षता में एसएएसबी की 44वीं बैठक के दौरान सदस्यों और अधिकारियों ने श्री अमरनाथ यात्रा-2023 के विभिन्न पहलुओं की समीक्षा की, जिसमें पंजीकरण, हेलीकॉप्टर सेवाओं का प्रावधान, सेवा प्रदाता, शिविर, लंगर और यात्रियों के लिए बीमा कवर शामिल हैं।

भगवान कार्तिक स्वामी मंदिर के कपाट खुले, उमड़ा आस्था का सैलाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here