कोरोनाः कोरियाई कंपनियों ने दिल्ली को तीसरी लहर के लिए तैयार करने में मदद की

722
  • सरकारी अस्पतालों और सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं को वितरित करने के लिए डायलॉग एंड डेवलपमेंट कमीशन
  • दिल्ली को 3.7 मिलियन रुपये की चिकित्सा आपूर्ति दी

नई दिल्ली, 23 जुलाई। कोरिया ट्रेड-इन्वेस्टमेंट प्रमोशन एजेंसी (केओटीआरए) ने भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के साथ मिलकर आज दिल्ली सरकार के कोविड के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करते हुए डायलॉग एंड डेवलपमेंट कमिशन (डीडीसी) को चिकित्सा उपकरण और अन्य मेडिकल सामग्री की आपूर्ति की। डीडीसी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार का एक प्रमुख थिंक-टैंक है, जो सरकार को दिल्ली के विकास से जुड़ी चुनौतियों के लिए स्थायी व जन-केंद्रित समाधान खोजने में मदद करता है और महत्वपूर्ण सलाह भी प्रदान करता है। अपने जनादेश को पूरा करने के लिए डीडीसी एक आउटसाइड-इन और इनसाइड-आउट रणनीति का पालन करता है।
3.7 मिलियन रुपये से अधिक की यह चिकित्सा सामग्री 6 कोरियाई कंपनियों द्वारा उपलब्ध कराई गई है। इसमें नेजल कैनुला वाले ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर (एलई कॉर्पोरेशन), 10,000 पर्सनल प्रोटेक्टिव गाउन- पीपीई (Wallan Bio), 200 किलोग्राम सेनेटाइजिंग सामग्री (जी-सोल), 60,000 उच्च गुणवत्ता वाले केएफ94 मास्क (Siheontech, GAONTech), और 100 पल्स ऑक्सीमीटर (एमटीईसी ग्लोबल) शामिल हैं। इन्हें दिल्ली के सरकारी अस्पतालों और सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्रों पर वितरित किया जाएगा, जिन्हें संभावित तीसरी कोविड लहर से निपटने के लिए मदद की जरूरत है।
कोरिया ट्रेड-इन्वेस्टमेंट प्रमोशन एजेंसी (केओटीआरए) और भारत में कोरिया गणराज्य की सरकार के सहयोग से कोरियाई कंपनियों जी-सोल कॉर्पोरेशन, Wallan Biotech, एलई कॉर्पोरेशन, Siheontech, GAONTech, एमटीईसी ग्लोबल ने भारत में कोरोनावायरस की संभावित तीसरी लहर के खिलाफ अपने प्रयासों को तेज करते हुए मेडिकल उपकरणों को डीडीसी के अधिकारियों सौंपा।
जैस्मीन शाह, उपाध्यक्ष-डीडीसी, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार, ने कहा, “ये चिकित्सा उपकरण और आपूर्ति दिल्ली में चिकित्सा सुविधा केंद्रों या संस्थानों को वितरित की जाएगी, जिन्हें मदद की जरूरत है। हम केओटीआरए और कोरियाई कंपनियों को उनके समर्थन के लिए सराहना करते हैं, और इस घातक बीमारी के खिलाफ हमारी लड़ाई में इस तरह की अन्य भागीदारियों की आशा करते हैं।”
जियोंग येओल यू, अध्यक्ष दृ कोतरा, भारत में सीएसआर (कॉर्पोरेट सोशल रेस्पॉन्सिबिलिटी) एंड ईएसजी (एनवायरनमेंटल सोशल गवर्नेंस) इमरजेंसी मेडिकल एंड हेल्थ सपोर्ट प्रोजेक्ट चला रहे हैं। यह कोरियाई कोविड-19 मेडिकल उत्पाद व पीपीई किट निर्माताओं को भारत में दान या सहयोग देने में मदद करता है ताकि उन्हें भारत सरकार, संस्थानों और कॉर्पोरेट संस्थाओं तक पहुंचाया जा सके।
मून यंग किम, प्रबंध निदेशक, कोतरा -साउथ-वेस्ट एशिया, ने कहा कि दूसरे कदम के रूप में, हमने दिल्ली के डायलॉग एंड डेवलपमेंट कमिशन (डीडीसी) और सीआईआई फाउंडेशन के माध्यम से भारतीय नागरिकों तक सहयोग पहुँचाने का फैसला किया। हम भारतीय नागरिकों की मदद के लिए इंडियन रेडक्रॉस सोसाइटी (आईआरसीएस) को 8,000 से अधिक केएफ मास्क दान करेंगे।
अधिक से अधिक कोरियाई कंपनियों को आगे आने और भारत को अपना सहयोग देने के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से, केओटीआरए कंपनियों को प्रोत्साहन भी प्रदान कर रहा है। केओटीआरए भारत में आयात की जाने वाली चिकित्सा सामग्रियों की शिपिंग लागत वहन कर रहा है और उन्हें विभिन्न एजेंसियों को दान कर रहा है।
पिछले हफ्ते, 2 कोरियाई कंपनियों येईल हेल्थकेयर और Hwasung Industry ने भारत में कोरियाई समुदाय के लिए संयुक्त कोरियाई संघों को ऑक्सीमीटर से जुड़े ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर (येईल) और सुरक्षा सूट सेट दान किया।

‘जन्म से ही अपनी जिम्मेदारियों का बखूबी निर्वहन कर रहा है भारतीय मजदूर संघ’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here