जसवां परागपुर से था बिकाऊ विधायकों का चौकीदार, होशियार के खोलूंगा चिट्ठे: सुक्‍खू

32

जसवां परागपुर से था बिकाऊ विधायकों का चौकीदार, होशियार के खोलूंगा चिट्ठे : सुक्‍खू

डाडासीबा (कांगड़ा), 12 मई। मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह ने कहा नौ बिकाऊ विधायकों का चौकीदार जसवां परागपुर विधानसभा क्षेत्र का विधायक था। भाजपा हाईकमान के दबाव में उसने बिके विधायकों की एक महीने तक चौकीदारी की और घर भी नहीं आया। बिकाऊ विधायकों को दूसरी क़िस्त पंचकूला के होटल हॉलिडे इन में मिलनी थी इसलिए भाजपा के राज्यसभा उम्मीदवार को वोट डालने के बाद जल्दबाजी में शिमला से भाग गए। मुख्यमंत्री ने ये बातें डाडासीबा में लोकसभा उम्मीदवार सतपाल रायजादा के चुनाव प्रचार के लिए आयोजित जनसभा में कहीं।

उन्होंने कहा कि इस्तीफा दे चुके देहरा से आजाद विधायक होशियार सिंह का एक-एक चिट्ठा खोलूंगा, जब चुनाव होगा। उन्हें लोगों के वोट का सौदा नहीं करना चाहिए था। विधायकी से इस्तीफे के साथ ही निर्दलीयों को राजनीति से भी संन्यास ले लेना चाहिए। जिनके सारे काम हो रहे हों वे विधायक 14 महीने में इस्तीफा नहीं देते। बिकाऊ विधायकों का इस्तीफा तो कोर्ट से भी स्वीकार नहीं हुआ, कोर्ट ने कहा कि विधानसभा स्पीकर ने जो पूछा है, उसका जवाब दो।

मुख्यमंत्री ने कहा, अनुराग ठाकुर जनता को बताएं सांसद रहते कौन सी बड़ी योजना लाएं, कहां विकास किया। अनुराग केंद्र सरकार में मंत्री थे बावजूद इसके प्राकृतिक आपदा के समय हिमाचल प्रदेश को विशेष राहत पैकेज नहीं दिला पाए। उन्होंने प्रधानमंत्री और गृहमंत्री से चिट्ठी लिखकर भी राहत पैकेज की मांग नहीं की। अगर पैकेज मिलता तो लोगों को बड़ी राहत मिलती। आपदा में दान देने के लिए बच्चों ने अपनी गुल्लकें तोड़ दीं, लेकिन भाजपा नेताओं को शर्म नहीं आई।

ठाकुर सुखविंदर सिंह ने कहा कि जसवां परागपुर मेरा घर है। आपके साथ लगती विधानसभा क्षेत्र का मुख्यमंत्री मिला है। कांग्रेस उम्मीदवार सतपाल रायजादा को वोट दें, चुनाव के बाद जो मांगेंगे वह मिलेगा। भाजपा सांसद तो चुनाव जीतने के बाद आते ही नहीं, रायजादा आपके बीच रहेगा। परागपुर की जनता ने मुख्यमंत्री को देखते हुए वोट डालना है। जसवां परागपुर की हर मांग को सरकार ने पूरा किया है। आम आदमी के दर्द को समझता हूं इसलिए उनके लिए योजनाएं बना रहा हूं। अर्थव्यवस्था पर बोझ डाले बिना 10 में से 5 गारंटियों को पूरा कर चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा ने हिमाचल के हितों की हमेशा अनदेखी की। पूर्व सरकार ने प्रदेश के हित बेच डाले। विधायकों को खरीद कर देवभूमि को कलंकित किया। यह चुनाव लोकतंत्र की रक्षा करने का है। धनबल को जनबल ही हरा सकता है। कांग्रेस के पैसा नहीं है, जनता की ताकत है। 1 जून को कांग्रेस को वोट दें ताकि खरीद फरोख्त की राजनीति करने वालों को कड़ा सबक मिले।

इस दौरान लोकसभा उम्मीदवार सतपाल रायजादा, पूर्व उम्मीदवार सुरेंद्र मनकोटिया, डॉ राजेश शर्मा, धीरज देसाई, संजीव कालिया और ब्लॉक अध्यक्ष कुशल सिपहिया भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here