सावधान, पहाड़ों में होगी मूसलाधार बारिश

426

– तॉक्ते का असर, प्रदेश में 19 और 20 को रेड अलर्ट
– 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी हवाएं

इस बार उत्तराखंड को दोहरी मुसीबतों का सामना करना होगा। एक कोरोना का और दूसरा प्राकृतिक आपदा का। मौसम विभाग ने कल और परसों यानी 19 और 20 मई के लिए समस्त उत्तराखंड रेड अलर्ट किया है। तॉक्ते के कारण उत्तराखंड में पश्चिमी विक्षोभ उत्पन्न हो गया है। इसका केंद्र उत्तराखंड और हिमाचल से जुड़ी सीमा बताई जा रही है। कल देहरादून, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़ और चमोली में भारी से भारी बारिश होने का अनुमान है। इसके अलावा अन्य जिलों में भी भारी बारिश हो सकती है। दूसरे दिन यानी 20 मई को उपरोक्त जिलों के अलावा टिहरी, नैनीताल और रुद्रप्रयाग जिलों में भारी बारिश होने का अनुमान है।

वसुधैव कुटुंबकम्

यूसैक के निदेशक डा. एमपीएस बिष्ट इस संबंध में कई बार आशंका जता चुके हैं कि मानसून में अन्य वर्षों की तुलना में अधिक आपदाएं आने की आशंका है। इस संबंध में उन्होंने चमोली और रुद्रप्रयाग के डीएम से भी बात कर आपदा प्रबंधन की तैयारियों के लिए सचेत किया है। लेकिन इस प्रदेश का दुर्भाग्य है कि यहां घटना होने के बाद ही सरकार और प्रशासन की आंखें खुलती हैं।

[वरिष्‍ठ पत्रकार गुणानंद जखमोला की फेसबुक वॉल से साभार]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here