हाय, हाय। दल-बदलू विधायक राजकुमार सीएम बनते-बनते रह गए

503
  • चन्नी के चने खाकर लौटे हरदा ने कहा, दलित सीएम देखना चाहते हैं
  • हरदा के नेक इरादे को सलाम, कौन बनेगा कांग्रेस का दलित सीएम?

इसे कहते हैं फूटी किस्मत। पुरोला के दल-बदलू विधायक राजकुमार की किस्मत कितनी खराब है यह अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उनकी भाजपा में घुसपैठ के बाद पूर्व सीएम हरीश रावत की दिली चाहत जाग उठी कि किसी दलित नेता को उत्तराखंड का सीएम बनते हुए देखें। अब पता चला है कि पुरोला में राजकुमार को उनकी विधानसभा की जनता खूब कोस रही हैं। इस बार उनका विधायक बनना भी मुश्किल होगा।
उधर, महाराजा रणजीत सिंह के गढ़ पंजाब में चौतरफा चित्त हुए हरीश रावत जी को सिद्धू और चन्नी ने खूब चने खिलाकर भेजा। पंजाब के चने के साथ देसी घी खाकर उत्तराखंड लौटे हरदा चन्नी से अभिभूत हो गए और आते ही कहने लगे, वह अपनी आंखों के सामने किसी दलित को उत्तराखंड का सीएम बनते देखना चाहते हें। हरदा उम्र के इस पड़ाव में हैं जब व्यक्ति भावुक होने लगता है। वो कभी रोते हैं, तो कभी मुस्लिम टोपी पहन लेते हैं, कभी अपने को ठेढ़ पहाड़ी तो कभी आध्यात्मिक साबित करते हैं। वो सीएम भी बनना चाहते हैं और दलित सीएम भी देखना चाहते हैं। आखिर क्या चाहते हैं हरदा?
कांग्रेसियों को उनकी इच्छा पूरी करनी चाहिए। प्रदीप टम्टा उनके खासमखास हैं। देहरादून के राजकुमार की किस्मत भी चमक सकती है। अन्य कई नेता भी दौड़ में हो सकते हैं। आप उनको दलित नेताओं के नाम सुझा सकते हैं ताकि हरदा की दलित सीएम चुनाव की मुश्किलें आसान हो सकें।
[वरिष्‍ठ पत्रकार गुणानंद जखमोला की फेसबुक वॉल से साभार]

धामी जी, मत टूटने दो गरीब बच्चों के डाक्टर बनने के सपने

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here