बुढ़ापे में भी झूठ बोलना नहीं छोड़ रहे हरदा

909
  • कह रहे गांव गोद लेंगे, गाय पालेंगे, महानौटंकीबाज नेता
  • आपदा में सात परिवारों को सात टेंट नहीं दे सके, गांव गोद लेंगे

उत्तराखंड के यदि सबसे झूठे नेताओं की गितनी होगी तो हरदा अग्रणी नेताओं में शामिल होंगे। जो उनको जानते हैं उन्हें पता है कि हरदा कंधे पर हाथ रखेंगे और फिर समस्या सुनेंगे, फिर फोन मिलाएंगे, हमदर्द बनकर बात करेंगे, पता चलेगा मोबाइल नेटवर्क ही नहीं है। फोन किसे किया? आदेश किसको दिये? जब सीएम थे तो केदारनाथ आपदा के लिए केदारघाटी के लिए 10 करोड़ धन जुटाने का वादा किया, फिर पांच करोड़ पर आए और बाद में एक करोड़ ही जुटाया वो भी तब जब मीडिया पीछे पड़ा रहा। राज्य स्थापना दिवस पर कहा कि गांव बसाएंगे, गाय पालेंगे। पिछले 50 साल में अपने लिए एक विधानसभा सीट नहीं जुटा पाए हरदा। आज भी पता नहीं कि कहां से चुनाव लड़ेंगे।

https://www.facebook.com/gunanand.jakhmola/videos/978597662721408

इस वीडियो में लालकुंआ के स्कूल में ठहरे सात परिवारों के लिए वो नैनीताल के डीएम से बात कर रहे हैं कि टेंट की व्यवस्था कर दो। हरदा को चाहिए था कि तुरंत सात टेंट खरीदते और प्रभावितों को देते और तब डीएम से कहते कि इनका घर बह गया है इनको जगह दे दो। पूरी नौटंकी करते हैं। हरदा को जीवन में अब भजन कीर्तन करना चाहिए न कि झूठ बोलना।
[वरिष्‍ठ पत्रकार गुणानंद जखमोला की फेसबुक वॉल से साभार]

कौन है ये अमित कपूर और जयकृत कंडवाल?

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here