केशवपुरम के पार्क में रातोंरात लगा जिओ टॉवर, निवासियों का हंगामा, एक्शन में चेयरमैन वर्मा

627

नई दिल्ली, 20 सितंबर, अक्षुण्ण भारत संवाददाता। केशवपुरम के सी-8 स्थित मदर डेयरी पार्क में रातोंरात जिओ का मोबाइल टॉवर लगा दिया गया। आज सुबह जब निवासियों की इस पर नजर पड़ी तो उन्होंने जमकर हंगामा किया। जिसके बाद उत्तरी दिल्ली नगर निगम के चेयरमैन योगेश वर्मा ने मामले में संज्ञान लिया और निगम आयुक्त ने एक नोटिस जारी कर मोबाइल टॉवर के लगाने पर रोक लगा दी। मालूम हो कि हमारे सहयोगी न्यूज चैनल रोजाना दिल्ली न्यूज ने आज सुबह ही इस मामले को प्रमुखता से उठाया था।

आज सुबह अचानक केशवपुरम के सी-8 ब्लॉक का माहौल गरम हो उठा, जब यहां के निवासियों ने मदर डेयरी पार्क के बीचोंबीच में जिओ का मोबाइल टॉवर लगा देखा और आसपास खड़ी गाडि़यों को इधर-उधर लगे देखा। जिसके बाद आरडब्ल्यूए के पदाधिकारी भी वहां पहुंचे। लोगों ने मोबाइल टॉवर को रिहायशी कॉलोनी में लगाने का विरोध किया और कहा कि इससे क्षेत्रवासी बीमार पड़ सकते हैं। उन्होंने आपत्ति जताई कि मोबाइल टॉवर से पक्षी गायब हो रहे हैं और पार्कों की सुंदरता भी खराब हो रही है। निवासियों ने नगर निगम पर आरोप लगाया कि वह कमाई के लिए पार्कों का व्यवसायीकरण करके लोगों के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने कहा कि इसके लिए आरडब्ल्यूए की भी अनुमति लेनी चाहिए थी। उन्होंने इस टॉवर को तुरंत यहां से हटाने की मांग की। सी-7 आरडब्ल्यूए के पदाधिकारी आरके गुलाटी, हरि सिंह, रवि कुमार, चंदर अरोड़ा, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पंकज शर्मा, उमेश गुप्ता, दिनेश मनवाल (मास्टर जी) और नितिन बेरी ने भी वहां पहुंचकर अपना विरोध दर्ज कराया।
वहीं, जिओ कंपनी का कहना है कि उसने टॉवर लगाने के लिए सभी विभागों से अनुमति प्राप्त की है। आधी रात को टॉवर के आरोप लगाने पर उन्होंने कहा कि बड़ी-बड़ी मशीनों के वजह से रात में कार्य किया गया, ताकि किसी भी अप्रिय हादसे से बचा जा सके।

इस बीच, जब इसकी जानकारी उत्तरी दिल्ली नगर निगम के चेयरमैन योगेश वर्मा को लगी तो उन्होंने पूरे मामले को समझा। इसके बाद निगम आयुक्त ने एक आदेश पारित किया। निगम चेयरमैन और स्थानीय पार्षद वर्मा ने बताया कि अब रिहायशी कॉलोनी में तब तक मोबाइल टॉवर नहीं लगेगा, जब तक की वहां के क्षेत्रीय उपायुक्त, वहां के निगम पार्षद और आरडब्ल्यूए से विचार-विमर्श नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आदेश के अनुसार मोबाइल टॉवर लगाने पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है।

शिकायत का असर, हटने लगी केबल तारें

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here