स्कूल संचालक ने 50 लाख के लिए अपहरण कर छात्र को जिंदा जलाया, अवशेषों को नदी में बहाया

495
file photo source: social media

नालंदा, 19 अक्टूबर। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जनपद नालंदा से एक दिल दहलाने वाला हत्याकांड सामने आया है। यहां पर एक छात्र को 50 लाख रुपये के लिए अगवा कर उसे जिंदा जला दिया गया। उसके बाद छात्र के अवशेषों को नदी में बहा दिया गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बिहार थाना क्षेत्र से विद्युत विभाग में कार्यरत अस्पताल चौक के समीप मुसादपुर निवासी उर्मिला देवी के 20 वर्षीय पुत्र नीतीश कुमार का 16 अक्टूबर को अपहरण कर लिया गया था। अपहरणकर्ताओं ने फोन पर नीतीश को छोड़ने के एवज में 50 लाख की मांग की थी। अपहरण की शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी। जिससे घबराकर अपहरणकर्ताओं ने नीतीश को जिंदा जला दिया और उसके बचे हुए अवशेष नदी में बहा दिए।
पुलिस ने जांच के दौरान स्कूल संचालक दीपक कुमार समेत दो संदिग्धों को हिरासत में ले लिया। पूछताछ के दौरान उनकी निशानदेही पर पुलिस ने मंगलवार को सोहसराय के आशानगर स्थित मदर टेरेसा स्कूल परिसर से हत्या के साक्ष्य बरामद किए। जिसके बाद पुलिस ने दीपक कुमार को गिरफ्तार कर लिया। दीपक के उर्मिला देवी का रिश्तेदार है।
सदर डीएसपी शिब्ली नोमानी ने बताया कि अपहरणकर्ताओं की निशानदेही पर स्कूल परिसर से हत्या के साक्ष्य बरामद हुए। जिसके बाद डॉग स्क्वायड को बुलाया गया है। वारदात में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश में छापेमारी जारी है।
वहीं, उर्मिला देवी ने बताया कि 16 अक्टूबर को नीतीश ने अमेजन से ऑनलाइन टेबल मंगवाने के लिए 150 रुपये लिए थे। नीतीश को रुपये देकर वह ऑफिस चली गई। शाम को लौटने पर नीतीश घर पर नहीं था। नीतीश का मोबाइल स्विच ऑफ आ रहा था। देर रात नीतीश के मोबाइल से किसी ने कॉल कर कहा कि आपका बेटा मेरे पास है और कल तक 50 लाख का इंतजाम कर लेना। साथ ही पुलिस को सूचना देने पर नीतीश को जान से मारने की धमकी दी।

पहले कार से खींचा, फिर दौड़ाया, उसके बाद धायं-धायं कर सीने में दागी 10 गोलियां, सीसीटीवी कैमरे में कैद…

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here