अद्भुत होता है ब्रह्मकमल लेकर आए श्रद्धालुओं व देवता कासूराज महाराज के मिलन का दृश्य

1172

रिकांगपिओ, 18 सितंबर। जिला स्तरीय 7 दिवसीय रिब्बा फुल्याच मेले का शुभारंभ करते हुए उपायुक्त किन्नौर आबिद हुसैन सादिक ने ग्राम वासियों को बधाई देते हुए कहा कि यह प्रसन्नता का विषय है कि ग्राम वासियों द्वारा आज भी सदियों से चली आ रही फुल्याच मेले की परंपराओं का पूर्व की तरह निर्वाहन किया जा रहा है जो हम सभी के लिए गर्व का विषय है।
उन्होंने कहा कि किन्नौर जिला अपनी समृद्ध संस्कृति, रीति-रिवाज, त्यौहार, वेश-भूषा व पहरावे के लिए न केवल प्रदेश बल्कि देश व विदेश में भी जाना जाता है। इसी से जिले की एक अलग पहचान है। सदियों से यहां की समृद्ध संस्कृति रीति-रिवाजों से रू-ब-रू होने के लिए यहां देश-विदेश के पर्यटक व स्कोलर आते रहे हैं। ऐसे में हम सभी का भी यह दायित्व बनता है कि हम अपनी समृद्ध संस्कृति के संरक्षण के लिए आगे आएं ताकि आने वाली पीढि़यों के लिए हम इसका संरक्षण सुनिश्चित बना सकें।
उपायुक्त ने कहा कि फुल्याच उत्सव अपने आप में एक अलग व अनोखा पर्व है जिसे सभी ग्रामवासी आपसी मेल मिलाप से अपने गांव से लगभग 8 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित शरपो-सनतंग में मनाते हैं। इस दौरान सभी स्थानीय लोग जहां स्थानीय देवता कासूराज महाराज की पूजा अर्चना करते हैं वहीं संगीत व नाच-गान का भी देर-रात तक आयोजन होता है। देव-पूजा के लिए ऊंची पहाडि़यों, कैलाश पर्वत के आंचल से स्थानीय लोगों द्वारा ब्रह्मकमल व धूप लाया जाता है। ब्रह्मकमल तथा धूप लेकर वापस आए श्रद्धालुओं व स्थानीय देवता कासूराज महाराज के मिलन का दृश्य अपने-आप में अद्भुत होता है तथा सब को मोहित कर लेता है।
इस अवसर पर स्थानीय ग्राम पंचायत रिब्बा की प्रधान राधिका नेगी ने मुख्य अतिथि तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया तथा क्षेत्र से संबंधित विभिन्न मांगों को भी मुख्य अतिथि के समक्ष रखा। उन्होंने रिब्बा में पार्किंग समस्या का हल करने, सीए स्टोर का निर्माण करने, खेल-कूद मैदान व पुल के साथ दीवार लगाने सहित अनेक मांगे मुख्य अतिथि के समक्ष प्रस्तुत की। उन्होंने रिब्बा फुल्याच मेले के इतिहास के बारे में भी जानकारी दी।
ग्राम पंचायत प्रधान व देवता कमेटी के मोतमिन द्वारा मुख्य अतिथि तथा अन्य का पारंपरिक ढंग से स्वागत किया गया।
इस अवसर पर उपमंडलाधिकारी कल्पा स्वाति डोगरा, तहसीलदार कल्पा विवेक नेगी, तहसीलदार मूरंग विनोद कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सोनम नेगी, जिला परिषद सदस्य प्रिया नेगी, पंचायत समिति सदस्य प्रतिभा नेगी, उपप्रधान कृष्ण भगत, महिला कल्याण परिषद की अध्यक्षा रतन मंजरी, देव समाज के मोतमिन युधिष्ठर नेगी व सचिव विपिन नेगी, उपप्रधान प्रेम प्रकाश व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

गुजराल के भजनों पर झूमे भक्त

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here