ऊना में लगेगा ऑक्सीजन प्लांट, पालकवाह में आरटी-पीसीआर लैबः सत्ती

1715

सतपाल सिंह सत्ती ने मुख्यमंत्री ठाकुर का जताया आभार
ऊना, 8 मई। ऊना के क्षेत्रीय अस्पताल में जल्द ही ऑक्सीजन प्लांट लगाया जाएगा, जिससे 200 बैड को निरंतर ऑक्सीजन की सप्लाई मिल पाएगी। यह जानकारी छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने बताया कि ऑक्सीजन प्लांट प्रदेश सरकार, केंद्र की सहायता से लगाएगी। आने वाले समय में पाइप के माध्यम से ऑक्सीजन गैस की सप्लाई निर्माणाधीन मातृ-शिशु अस्पताल को भी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार कोरोना महामारी से लड़ने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य कर रही है। ऐसे में एक टीम जल्द ही ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए ऊना का दौरा करेगी तथा जल्द ही प्लांट लगाया जाएगा।

सतपाल सत्ती ने कहा कि प्रदेश सरकार ने ऊना जिला के पालकवाह में आरटी-पीसीआर लैब की स्थापना को भी मंजूरी प्रदान कर दी है। उन्होंने कहा कि 3.95 करोड़ रुपए की लागत से आरटी-पीसीआर लैब स्थापित की जाएगी, जिससे कोरोना के संक्रमण को रोकने में मदद मिलेगी। अभी तक ऊना के सैंपल टांडा व पालमपुर में टेस्टिंग के लिए जा रहे हैं तथा इनकी रिपोर्ट आने में 4-5 दिन की देरी हो रही है। ऊना में आरटी-पीसीआर लैब की स्थापना से टेस्टिंग जिला में ही संभव हो पाएगी, जिससे अनावश्यक देरी से छुटकारा मिलेगा तथा कोरोना संक्रमित के इलाज में मदद मिलेगी। उन्होंने जिला ऊना को आरटी-पीसीआर लैब तथा ऑक्सीजन प्लांट देने के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का आभार जताया।

छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार कोरोना संकट से मुकाबला करने के लिए बेहतर कदम उठा रही है तथा स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। इसी दिशा में प्रदेश सरकार ने ऊना के क्षेत्रीय अस्पताल को 300 बैड का बनाने का फैसला किया तथा इसके साथ ही विभिन्न श्रेणियों में 76 पद भरने को भी मंजूरी दी है। सरकार के इस फैसले से जिला ऊना की जनता को आने वाले समय बहुत बड़ा लाभ मिलेगा तथा बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्राप्त होंगी। सत्ती ने मुख्यमंत्री का इस फैसले के लिए भी धन्यवाद किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here