कोरोनाः कृषि विभाग के अधिकारियों व कर्मियों को फ्रंटलाइन वर्कर घोषित करने की मांग

696

चंबा, 19 मई। हिमाचल प्रदेश कृषि सेवाएं संघ जिला चंबा ने जिला प्रशासन से कृषि विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को तुरंत फ्रंटलाइन वर्कर घोषित करने की मांग की है। इसके साथ ही उन्हें प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन लगवाने की भी मांग की।

संघ के चंबा जिले के अध्यक्ष योगराज चौहान, उपाध्यक्ष भानू प्रताप और सोशल मीडिया प्रभारी चंचल राणा ने कहा कि कृषि विभाग के अधिकारी व कर्मचारी कोरोना काल में लंबे समय से किसानों की सेवा में कार्यरत हैं। इस समय फसल की बिजाई को लेकर काफी संख्या में किसान कृषि विभाग के विक्रय केंद्रों में पहुंच रहे हैं। जहां से किसान बीज और दवाइयां खरीद रहे हैं। ऐसे में विभाग के अधिकारियों, कर्मियों और किसानों में एक-दूसरे से संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। सरकार की तरफ से कृषि विभाग के अधिकारियों व कर्मियों को अभी तक वैक्सीनेशन में प्राथमिकता नहीं दी गई है।

कोरोना काल में मजदूर वर्ग और छोटे व्यवसायियों को आर्थिक पैकेज दे सरकार

संघ पदाधिकारियों का कहना है कि कृषि विभाग द्वारा लगातार कोरोना नियमो का सख्ती से पालन किया जा रहा है। फिर भी कृषि विभाग के कई अधिकारी व कर्मी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। ऐसे में सरकार उन्हें फ्रंटलाइन वर्कर घोषित करते हुए तुरंत उनका प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीनेशन करें।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here