मानसिक रूप से स्वस्थ रहने को अपनाएं सकारात्मक सोच एवं जीवनशैली, परामर्श जारी

1417

हमीरपुर, 14 मई, अक्षुण्ण भारत। कोविड-19 महामारी के इस दौर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के साथ-साथ मानसिक तौर पर भी स्वयं को सुदृढ़ रखना अति आवश्यक है। राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य और स्नायु विज्ञान संस्थान की ओर से इस बारे में परामर्श जारी किया गया है।

संस्थान के परामर्श के अनुसार सभी लोग अपने आप को सहज बनाए रखें। कोरोना संक्रमण के प्रति सावधान रहें, मगर सकारात्मक विचारों के साथ अपनी मानसिक सुदृढ़ता बनाए रखना भी आवश्यक है। यदि आप चिंता या तनाव महसूस कर रहे हैं तो परिवार एवं दोस्तों के साथ ऑनलाइन संपर्क बनाएं। निरंतर अपनों के संपर्क में रहें और उनके साथ अपनी भावनाओं को भी साझा करें। नियमित रूप से व्यायाम एवं ध्यान करें और पर्याप्त नींद लें।

कोरोनाः आयुष घरद्वार कार्यक्रम से 30 हजार होम आईसोलेट रोगियों को मिलेगी मदद

मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के उपायों को अपनाते हुए सकारात्मक रहें और अपने काम एवं जीवन में संतुलन बना कर रखें। सक्रिय रहें और मनोरंजक गतिविधियों में स्वयं को व्यस्त रखें। नए कौशल विकसित करें। संतुलित आहार को दिनचर्या में शामिल करें। तंबाकू, शराब व दूसरे नशीले पदार्थों के सेवन से दूर रहें।

मानसिक तौर पर किसी भी परेशानी अथवा शंका का समाधान करने के लिए राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य और स्नायु विज्ञान संस्थान के टॉल फ्री हेल्पलाइन नंबर #080-46110007 पर कॉल कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त कोविड-19 से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए सप्ताह के सातों दिन चौबीसों घंटे टॉल फ्री नंबर 1075 अथवा 104 या जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के दूरभाष नंबर 1077 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here