ग्राहकों को बेहतर, तीव व किफायती परिवहन सुविधा दे रही है पूर्वोत्तर रेलवे

1273
file photo source: social media

बरेली, 24 अक्टूबर। पूर्वोत्तर रेलवे ने ग्राहकों की सेवा को सर्वोपरि मानते हुए अनेक सुधारात्मक कार्य किए हैं जिनका लाभ सीधे ग्राहकों को मिल रहा है।
अर्थव्यवस्था को नई गति प्रदान करने के लिए बेहतर, तीव्र, विश्वसनीय, संरक्षित एवं किफायती परिवहन सुविधा का होना बेहद आवश्यक है। इस दिशा में ग्राहकों को बेहतर सुविधा मिल सके तथा उनकी समस्याओं का त्वरित निस्तारण हो सके, इसके लिए हर स्तर पर ‘बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट‘ स्थापित की गई है, जो कि व्यापारियों, किसानों एवं औद्योगिक प्रतिष्ठानों से मिलकर उनको रेलवे द्वारा दी जा रही सुविधाओं एवं छूट के बारे में अवगत करा रही है।
मालगाडि़यों को औसत गति जो कि लगभग 23 किमी. प्रति घंटा हुआ करती थी, उसे गत वित्त वर्ष में बढ़ाकर लगभग 46 किमी. प्रति घंटा किया गया था। हालांकि उस दौरान सवारी एवं मेल एक्सप्रेस ट्रेनें कम संख्या में चली थीं। इस वित्त वर्ष में जबकि ज्यादातर सवारी एवं मेल एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही हैं, इसके बावजूद भी पूर्वोत्तर रेलवे पर गुड्स ट्रेनों की औसत गति निरंतर 50 किमी. प्रति घंटा से ज्यादा रही है। पूर्वोत्तर रेलवे इस दौरान ज्यादातर दिनों में गुड्स ट्रेनों की औसत गति के मामले में संपूर्ण भारतीय रेल पर प्रथम अथवा द्वितीय स्थान पर रहा है। मालगाडि़यों की औसत गति बढ़ाने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे पर अनेक कार्य किए गए हैं जैसे कि जिन खंडों में सेक्शनल स्पीड, निर्धारित क्षमता से कम थी, उसे बढ़ाया गया है। लूप लाइनों की गति सीमा को 15 किमी. प्रति घंटा से बढ़ाकर 30 किमी. प्रति घंटा किया गया है। सिगनलिंग व्यवस्था बेहतर की गई है, क्रैक गुड्स ट्रेनों की संख्या बढ़ाई गई है। लोको पायलट, सहायक लोको पायलटों की नियमित काउंसिलिंग की जाती है। इन ट्रेनों के संचालन की उच्च स्तरीय मॉनीटरिंग की जाती है। इन ट्रेनों की गति बढ़ने से इसका सीधा लाभ व्यापार से जुड़े लोगों, किसानों एवं छोटे उद्यमियों को मिल रहा है। सामान किफायती दर से कम समय में गंतव्य स्थानों तक पहुंच जा रहा है तथा खाली वैगन पुनः लोडिंग के लिए जल्दी उपलब्ध हो जा रहे हैं।
पूर्वोत्तर रेलवे ग्राहकों की सेवा मुस्कान के साथ को चरितार्थ करने के लिए सदैव प्रतिबद्ध होने के साथ बेहतर परिवहन सुविधा मुहैया कराने की ओर निरन्तर अग्रसर है।1

इन कारणों से ये ट्रेनें रहेंगी प्रभावित

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here