“ये नारी-सबसे न्यारी”

765
file photo source: social media

ये नारी-सबसे न्यारी
जिसने निभाई सबकी जिम्मेदारी
यही तो है नारी की कलाकारी
नौकरी करे निजी या सरकारी
इसी के आंचल में है दुनिया सारी
प्रक्रति की अनमोल धरोहर है ये
इसके चरणों में समाए दुनियादारी
जिसके आशीर्वाद से जगमगाए
ये दुनिया सारी।।
“ये नारी-सबसे न्यारी”

(एस.एस. डोगरा)

“हिन्दी हमारी आन है, हिंदी हमारी शान है”

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here