हरियाणा में फिर बढ़ा लॉकडाउन, ब्लैक फंगस से सचेत रहने की चेतावनी

833
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर रविवार को पानीपत में गुरू तेग बहादुर संजीवनी कोविड अस्पताल के उद्घाटन अवसर पर प्रदेश में लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा करते हुए।

अब गांव-गांव घर-घर जाकर 5 कर्मचारियों की टीम करेगी जांच

16 मई, पानीपत। मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने रविवार को रिफाईनरी के पास गांव बाल जाटान में गुरू तेग बहादुर संजीवनी कोविड अस्पताल की शुरूआत करते हुए हरियाणा में आगामी एक सप्ताह 24 मई प्रात: 6 बजे तक महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा के तहत लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा करते हुए कहा कि लॉकडाउन से कोरोना के केसों में काफी कमी आई है। लोगों को चाहिए कि कोविड-19 की पालना अच्छी तरह से करें और अपने घरों में सुरक्षित रहें। जरूरी काम होने पर ही घर से निकले। आगामी दिनों में महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा के तहत और सख्ती की जाएगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना की पहली लहर में हमारा नया अनुभव था और उस समय इस महामारी की गति भी कमजोर थी। उसके मुकाबले दूसरी लहर का पीक बहुत तेज है जो पहली लहर के आंकलन में 5 गुणा तेज है, लेकिन उसके बावजूद भी हमारी डाक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ की टीम ने बड़ी मजबूती के साथ मोर्चा सम्भाला है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कठनाई को भी धीरे-धीरे सुधार लिया गया है अब ऑक्सीजन हमें आवश्यकता अनुसार मिल रही है। 500 बैड की क्षमता वाले इस कोविड अस्पताल के निर्माण पर लगभग 28 करोड़ 88 लाख 70 हजार रूपये का खर्च आया है। 300 बैड का संचालन रविवार से कर दिया गया है जबकि आगामी दो दिन में 200 बैड का संचालन शुरू कर दिया जाएगा।

हिप्र के कोविड समर्पित इन 48 अस्पतालों में रात-दिन जारी है मरीजों का उपचार

मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरू तेग बहादुर संजीवनी कोविड अस्पताल के इतने जल्दी निर्माण में जिसको प्रदेश सरकार ने 26 अप्रैल को बनाने का निर्णय लिया था जो आज 20 दिन के अन्दर अपने संचालन रूप में आ गया है इसके लिए उन्होंने लोक निर्माण विभाग, रिफाईनरी, डीआरडीओ और स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ विशेष रूप से ग्राम पंचायत बाल जाटान के प्रति भी प्रदेश सरकार की ओर से आभार जताया और कहा कि बाल जाटान ग्राम पंचायत ने कोरोना महामारी की पहली लहर में भी प्रदेश सरकार को 10.50 करोड़ व अब अस्पताल के निर्माण में भी लगभग 1.50 करोड़ का सहयोग किया है।

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने कहा कि प्रदेश के अन्दर स्वास्थ्य विभाग में नए बैड की संख्या बढ़ी है। इससे पहले प्रदेश में 17500 बैड स्वास्थ्य विभाग में उपलब्ध थे जो अब बढ़कर 19500 हो गए हैं। इसके अतिरिक्त आइसोलेशन के लिए भी प्रदेश सरकार लगभग 45000 बैड तैयार कर रही है जिनमें ग्राम पंचायत व अन्य सामाजिक संस्थाएं अपना सहयोग कर रही हैं जिससे प्रदेश की जनता का और भी मनोबल बढ़ा है और वह महामारी से डटकर मुकाबला कर रही है। प्रदेश की जनता ने अब निर्णय ले लिया है कि मानवता के खिलाफ लड़ाई को लडऩा है और इस मानवता की दुश्मन कोरोना महामारी को हराना है।

उन्होंने प्रदेश के लोगों को आंखों की नई बीमारी ब्लैक फंगस के प्रति भी सचेत होने के लिए कहा कि प्रदेश के अन्दर एक और नई बीमारी ब्लैक फंगस का आगमन हो गया है जिसके लगभग अभी तक 60 केस मिले हैं। हमें इससे भी सावधान रहना होगा क्योंकि यह एक छुआछूत की बीमारी है। इस बीमारी के लिए प्रदेश सरकार ने 4 सेंटर बनाए हैं जिनमें रोहतक पीजीआई, हिसार का अग्रोहा मेडिकल कॉलेज, गुरूग्राम का एसजीटी मेडिकल कॉलेज व करनाल का कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज होंगे। उन्होंने कहा कि पानीपत की रिफाइनरी के पास बाल जाटान गांव में बनाए गए इस कोविड अस्पताल का गुरू तेग बहादुर के नाम पर नाम इसलिए रखा गया क्योंकि गुरू तेग बहादुर जी ने भी समाज की रक्षा के लिए अपना बलिदान दे दिया था। उन्हीं की प्रेरणा से समाज की इस अदृश्य महामारी से हमने एकजुट होकर लड़ाई लडऩी है। उन्होंने अपने सम्बोधन में महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा को एक सप्ताह के लिए अर्थात 24 मई प्रात: 6 बजे तक बढ़ाने की भी घोषणा की।

केन्द्रीय पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस एवं स्टील मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने इस अवसर पर कहा कि रिफाइनरी के ऑक्सीजन प्लांट के पास इस तरह के अस्पताल का निर्माण करना आज के समय में बहुत बड़ी मांग थी इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहरलाल, स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज और प्रदेश सरकार को बधाई देते हुए कहा कि इस तरह का प्रयोग बाढ़ के दौरान गुजरात में किया गया था। गुजरात के बाद हरियाणा ऐसा पहला प्रदेश है जहां इस तरह का प्रयोग कर 500 बैड का अस्पताल बनाया गया है। ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए कतर, ओमान, बेहरिन और दुबई जैसे देशों से ऑक्सीजन मंगवाई जा रही है। बाहर के देशों से लगभग 13 हजार टन ऑक्सीजन मंगवाई गई है। भारत सरकार और राज्य सरकार मिलकर कोरोना महामारी पर मिलकर काम करेंगे और इसे हराएंगे।

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के सभी डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ को बधाई देते हुए कहा कि सभी डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ इस महामारी से बड़ी एकजुटता से मुकाबला कर रहे हैं और हर रोज हजारों लोगो की जान बचा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत सरकार नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में लगातार स्वास्थ्य सेवा को सुधारने के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार 50 प्रतिशत वैक्सिन मुफ्त में दे रही है। उन्होंने पानीपत रिफाइनरी के अधिकारियों व कर्मचारियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस महामारी में आईओसीएल के कर्मचारियों ने अपना भरपूर सहयोग दिया है। उन्होंने घोषणा करते हुए कहा कि आईओसीएल के सभी कर्मचारियों व बाल जाटान ग्राम पंचायत के सभी ग्रामीणों को आईओसीएल की तरफ से मुफ्त में वैक्सीन लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्योग जगत से अपील की थी कि कम खर्च में मजदूरों के लिए घर बनाएं ताकि वे इनमें रह सकें। पानीपत में मॉडल कलस्टर के तहत श्रमिकों के लिए मॉडल के रूप में 100 करोड़ रूपये खर्च कर घर बनाए जाएंगे। श्रमिकों के लिए कम खर्च पर मॉडल घर तैयार किए जाएंगे। इनमें बाहर से आए मजदूर भी रह सकेंगे, यह भी सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने प्रदेश सरकार को नया अस्पताल बनाने के लिए बधाई दी और कहा कि प्रदेश सरकार ने इतने कम समय में यह अस्पताल तैयार कर नया उदाहरण प्रस्तुत किया है।

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इस मौके पर कहा कि मानव जाति पर एक अदृश्य दुश्मन ने हमला किया है जिसका अन्य देशों के साथ-साथ हमारे देश पर भी प्रकोप है। हरियाणा सरकार एकजुट होकर शासन, प्रशासन एकजुटता के साथ इसका सामना कर रहे हैं जिसमें डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ और कोरोना वारियर्स का भरपूर सहयोग मिल रहा है जो इस लड़ाई में दिन रात काम कर रहे हैं। इनकी मेहनत से ही हरियाणा में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में दिन-प्रतिदिन गिरावट आ रही है। जो प्रतिदिन 15 हजार थी लेकिन अब घटकर प्रतिदिन 9600 पर आ गई है। प्रदेश की जनता के सहयोग से महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा भी सफल रहा है। इस लड़ाई के खिलाफ हमारे प्रदेश के डॉक्टरों की टीम पीजीआई के सीनियर डॉक्टर्स पर भी समय-समय पर मागदर्शन लेती रहती है। इसके अतिरिक्त हरियाणा में एक नई बीमारी ब्लैक फंगस का भी आगमन हुआ है जिसके लिए प्रदेश सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारियों को आदेश दिए हैं जिस भी जिले में ब्लैक फंगस का केस मिले वह तुरन्त उसकी जानकारी सम्बंधित सीएमओ को रिपोर्ट दें ताकि इसका भी समय पर इलाज किया जा सके।

अनिल विज ने कहा कि प्रदेश सरकार ने हर जिले में बैड क्षमता बढ़ाई है। प्रदेश के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने सैनिक के रूप में इस लड़ाई के खिलाफ अपना भरपूर सहयोग व अपनी जिम्मेदारी निभाई है। इसके लिए उन्होंने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को सैल्यूट करते हुए कहा कि प्रदेश के हॉटस्पोट गांव में भी कोरोना सेंटर बनाए जा रहे हैं व गांव-गांव जाकर स्वास्थ्य विभाग की टीम जांच कर रही है और मरीजों के हालात के अनुसार उनका इलाज किया जा रहा है। उन्होंने प्रदेश की जनता को भरोसा दिलाया कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नेतृत्व में प्रदेश की जनता पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने प्रदेश की जनता को ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन लगवाने का भी आग्रह किया क्योंकि इस बीमारी का सबसे मजबूत कवच वैक्सीन ही है।

लोकसभा सांसद संजय भाटिया ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल, केन्द्रीय पैट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज का स्वागत करते हुए कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल का कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में अहम योगदान रहा है जो स्वास्थ्य विभाग में दिन-प्रतिदिन नजर बनाकर इस महामारी को हराने की तरफ ध्यान रखते हैं व हरियाणा के नवनिर्माण की लगन रखते हैं। उन्होंने इस अवसर पर धर्मेन्द्र प्रधान द्वारा रिफाईनरी परिसर में पौधारोपण करने पर विशेष रूप से धन्यवाद किया व स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगभग 20 दिनों के दौरान इस अस्पताल के संचालन पर उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री व सभी अधिकारियों व कर्मचारियों का धन्यवाद किया और उन्हें बधाई दी। पानीपत शहरी विधानसभा के विधायक प्रमोद विज ने मुख्यमंत्री मनोहरलाल, केन्द्रीय पैट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के साथ-साथ सभी अतिथियों का धन्यवाद करते हुए कहा कि पानीपत जिला में कोरोना महामारी से निपटने के लिए सभी संस्थाएं एकजुट है और मिलकर इस महामारी के खिलाफ लड़ रही हैं।

कार्यक्रम के अंत में मुख्यमंत्री मनोहरलाल को पानीपत एक्सपोर्ट एसोसिएशन की ओर से 100 ऑक्सीजन कंसनट्रेटर भी उपलब्ध करवाए और सांकेतिक रूप से एक ऑक्सीजन कंसनट्रेटर आशीष विज और सुरेश तायल ने मुख्यमंत्री को भेंट किया। इस मौके पर पानीपत ग्रामीण विधानसभा के विधायक महिपाल ढांडा, पूर्व मंत्री कृष्णलाल पंवार, भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ0 अर्चना गुप्ता, जेजेपी जिला अध्यक्ष सुरेश काला, आईओसीएल के चेयरमैन श्रीकांत माधव वैद्य, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डीएस ढेसी, लोक निर्माण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आलोक निगम, अतिरिक्त मुख्य सचिव और पानीपत जिला के कोविड-19 के नोडल अधिकारी ए.के. सिंह, डीजीपी सीआईडी आलोक मित्तल, आईजी ममता सिंह, उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह, निगमायुक्त आर.के. सिंह, एसपी शशांक कुमार सावन, एडीसी वत्सल वशिष्ठ, एसडीएम स्वप्रनील पाटिल के अलावा पानीपत रिफाईनरी के कार्यकारी निदेशक गोपाल चन्द्र सिकदर, कार्यकारी निदेशक श्याम बोहरा, विनय कुमार मिश्रा, एस.के.चौधरी, भाजपा जिला महामंत्री कृष्ण छौक्कर, पार्षद रविन्द्र भाटिया इत्यादि उपस्थित रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here