महंगाई से जनता को राहत नहीं दी तो उग्र आंदोलन करेगी कांग्रेस

747

घुमारवीं (बिलासपुर), 9 जून। भाजपा की केंद्र सरकार पेट्रोल डीजल तेल व रसोई गैस के दामों में वृद्धि कर रही है तो दूसरी तरफ प्रदेश में जयराम सरकार में भी उचित मूल्य की सरकारी दुकानों में मिलने वाले राशन के दामों में बेतहाशा वृद्धि कर गरीब जनता और मध्यम वर्ग के लोगों की कमर तोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। केंद्र में भाजपा व प्रदेश में भाजपा की डबल इंजन सरकार का इंजन हांफ चुका है। लॉकडाउन की वजह से लोगों के पास इस वक्त रोजगार भी नहीं है। भाजपा सरकार के जनता विरोधी फैसलों का युवा कांग्रेस विरोध करती है। यह बात स्‍थानीय युकां नेता रजनीश मेहता ने कही। मेहता ने कहा कि खाने के तेल की बोतल 220 रुपये प्रति लीटर तो दालों का रेट 120 से लेकर 150 रुपये तक पहुंच गया है। इसी तरह अन्‍य रोजमर्रा की सभी जरूरतमंद वस्तुओं में बेतहाशा वृद्धि हो चुकी है। कोरोना महामारी के बीच महंगाई के इस दौर में मध्‍यम वर्ग और गरीब जनता का जीना दूभर हो चुका है।
उन्‍होंने प्रदेश सरकार पर लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं देने में भी पूरी तरह से विफल रहने का आरोप लगाया है। उन्‍होंने कहा कि घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के अस्पताल को कोविड सेंटर बनाया गया था और पिछले 28 अप्रैल से घुमारवीं अस्पताल की ओपीडी बंद पड़ी है। इसके चलते 20 से 25 किलोमीटर के दायरे में आने वाली स्थानीय जनता को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इलाज करवाने के लिए महंगे प्राइवेट अस्पतालों का रुख करना पड़ रहा है। उन्‍होंने कहा कि युवा कांग्रेस केंद्र व प्रदेश की डबल इंजन सरकार से मांग करती है कि जल्द से जल्द महंगाई पर लगाम लगाकर मध्यम वर्ग और आम जनता को राहत प्रदान करें अन्यथा युवा कांग्रेस प्रदेश में बढ़ती महंगाई के खिलाफ पूरे प्रदेश में उग्र आंदोलन करेगी।

सच्चे गांधीवादी घोषित हों हरदा

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here