चंडीगढ़-मनाली एनएच बहाल होने के छह घंटे बाद भूस्खलन से फिर हुआ बंद

922

बुधवार को दिन भर बाधित होता रहा मार्ग, लोगों को झेलनी पड़ी परेशानी

मंडी, 12 मई (मुरारी शर्मा)। चंडीगढ़-मनाली एनएच बहाल होने के छह घंटे बाद भूस्खलन से फिर बंद हो गया। मार्ग 11 घंटे के बाद बुधवार सुबह साढ़े आठ बजे के करीब बहाल हुआ था। परंतु दोपहर करीब ढ़ाई बजे सात मील के पास भूस्खलन से फिर बाधित हो गया। जिसके चलते मंडी-कटौला-कुल्लू वाया बजौरा मार्ग से यातायात बहाल किया गया। हालांकि, कोरोना कर्फ्यू के दौरान मार्ग पर वाहनों की आवाजाही कम ही रही, लेकिन रोजमर्रा के कार्य करने वालों को परेशानी की सामना करना पड़ा।

दर्दनाक: मकान के साथ राख का ढेर बना जिंदा ग्रामीण

बीती रात चंडीगढ़-मनाली एनएच-21 भूस्खलन के चलते बाधित हो गया था। बुधवार सुबह इसे यातायात के लिए बहाल कर दिया गया था, लेकिन छह घंटे मार्ग पूरी तरह से बहाल होने के बाद रूक-रूक कर पत्थर गिरते रहे और यातायात प्रभावित होता रहा।

मंडीः रंगड़ों ने 4 को बुरी तरह से काटा, दो गंभीर

बता दें कि मंगलवार रात करीब नौ बजे पहाड़ी से बड़े-बड़े पत्थर और मलबा सडक पर आ गया था। जिससे एनएच पर वाहनों की आवाजाही बंद हो गई थी। भूस्खलन वाले स्थान पर फोरलेन की कटिंग का कार्य भी चल रहा है। सडक मार्ग बंद होने के कारण वाहनों को वाया कटौला-बजौरा वैकल्पिक मार्ग से डायवर्ट किया गया है। बुधवार सुबह करीब साढे आठ बजे इस मार्ग को यातायात के लिए बहाल कर दिया गया। परंतु करीब ढाई बजे मार्ग फिर बंद हो गया। तेज बारिश के कारण वैकल्पिक मार्ग कटौला-बजौरा में भी यातयात प्रभावित रहा। हालांकि एनएच की मशीनरी मार्ग बहाली के कार्य में जुटी रही। एएसपी आशीष शर्मा ने कहा कि रूक-रूक कर मार्ग बंद हो रहा है। उन्होंने कहा कि लोगों से वाया कटौला बजौरा होते हुए कुल्लू की ओर जाने की हिदायत दी जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here