मुख्यमंत्री ने सरदार पटेल व इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि दी

499

शिमला, 31 अक्टूबर। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज भारत के पहले उप-प्रधानमंत्री एवं गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की 146वीं जयंती के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि सरदार पटेल ने एक भारत, श्रेष्ठ भारत के लिए अपना संपूर्ण जीवन न्यौछावर कर दिया था।
इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 37वीं पुण्यतिथि के अवसर पर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी ने राष्ट्र की एकता तथा अखंडता के लिए अपने जीवन का बलिदान दिया था। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने शपथ भी दिलाई।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरदार पटेल सदैव भारत को मजबूत, समग्र, सचेत, विनम्र तथा विकसित देखना चाहते थे। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में पटेल की जयंती के अवसर को स्मर्णीय बनाते हुए अब इस दिन को राष्ट्रीय एकता दिवस या नेशनल यूनिटी डे के रूप में मनाया जाता है। सरदार पटेल को भारत की 562 रियासतों का एकीकरण कर भारत गणराज्य के निर्माण का श्रेय जाता है।
ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के स्वतंत्रता सेनानी तथा लौह पुरूष सरदार पटेल के सम्मान में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का निर्माण करने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने 31 अक्टूबर 2018 को सरदार पटेल की 143वीं जयंती के अवसर पर विश्व की सबसे ऊंची 182 मीटर प्रतिमा का अनावरण किया।
पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि, जिसे राष्ट्रीय संकल्प दिवस के रूप में भी मनाया जाता है, के अवसर पर उन्हें याद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदिरा गांधी ने राष्ट्र की एकता तथा अखंडता बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
ठाकुर ने कोरोना वायरस के नियंत्रण के लिए प्रदेश सरकार द्वारा जारी की गई मानक संचालन प्रक्रियाओं को निष्ठा से पालन करने के लिए प्रदेश के लोगों की सराहना भी की। उन्होंने कहा कि प्रदेश देश में कोविड वैक्सीन की पहली डोज लगाने के शत-प्रतिशत लक्ष्य को प्राप्त करने वाला प्रथम राज्य बना है तथा प्रदेश इस वर्ष नवंबर माह के अंत तक पात्र आयु वर्ग के शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त करने के मार्ग पर अग्रसर है।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर राष्ट्रीय एकता दिवस की शपथ भी दिलाई।
इस अवसर पर पुलिस, होमगार्ड, एनसीसी, एनएसएस तथा स्काउटस एंड गाइड्स के दलों द्वारा मार्चपास्ट भी प्रस्तुत किया गया, जिसका नेतृत्व पुलिस उप-अधीक्षक अंकित शर्मा ने किया।
इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राधा रमण शास्त्री, नगर निगम शिमला की महापौर सत्या कौण्डल, हिमफेड के अध्यक्ष गणेश दत्त, मुख्य सचिव राम सुभग सिंह, पुलिस महानिदेशक संजय कुण्डू, सचिव सामान्य प्रशासन देवेश कुमार, उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी, निदेशक सूचना एवं जन संपर्क हरबंस सिंह ब्रसकोन, वरिष्ठ नागरिक, सेना तथा पुलिस अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

पटेल जयंती पर रेलवे कर्मियों ने सत्यनिष्ठा की 20

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here