आयुष्मान भारत योजना ने पूर्ण किए कार्यान्वयन के सफल तीन वर्ष

490

सोलन, 22 सितंबर। लोगों को आरोग्य प्रदान करने की दिशा में सार्थक सिद्ध हो रही आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना कल यानि 23 सितंबर को अपने सफल कार्यान्वयन के 3 वर्ष पूर्ण कर लेगी। दुनिया की इस वृहद स्वास्थ्य योजना के सोलन जिले में भी सफल परिणाम सामने आए हैं।
23 सितंबर 2018 को आरंभ की गई आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना के अंतर्गत् प्रतिवर्ष पात्र परिवार के लिए 5 लाख रुपये के स्वास्थ्य बीमा का प्रावधान किया गया है। योजना के अंतर्गत् स्वास्थ्य बीमा राशि में सभी प्रकार की जांच, दवा, अस्पताल में भर्ती का खर्च इत्यादि सम्मलित है। योजना के तहत लगभग 1800 उपचार प्रक्रियाएं शामिल की गई हैं। योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि योजना के तहत पंजीकृत अस्पताल में दाखिल होने पर कैशलेस सेवा उपलब्ध है। इसमें डे केयर शल्य चिकित्सा भी शामिल है। हिमाचल प्रदेश में योजना के तहत 199 अस्पताल पंजीकृत हैं। इनमें 56 अस्पताल निजी क्षेत्र में हैं।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डॉ. राजन उप्पल ने इस संबंध में अधिकारिक जानकारी प्रदान करते हुए बताया कि जिले में 25 हजार 554 परिवारों के कार्ड बनाए गए हैं। योजना के शुरू होने के उपरांत जिला सोलन में 7262 लाभार्थी योजना से लाभ प्राप्त कर चुके हैं। इन लाभार्थियों पर 6 करोड़ 66 लाख 48 हजार 325 रुपये की राशि व्यय की गई है। सोलन जिले में योजना के तहत 9 सरकारी तथा 16 निजी अस्पताल सम्मलित किए गए हैं। इन अस्पतालांे में पात्र परिवारों को योजना अनुसार समुचित सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं।
उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत और जिला मुख्यालय में भी आयुष्मान भारत योजना से जुड़े लाभार्थियों की सूची उपलब्ध है। खण्ड चिकित्त्सा अधिकारियों, खण्ड विकास अधिकारियों तथा आशा कार्यकर्ताओं के पास भी योजना में सम्मलित लोगांे की सूची उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि टोल फ्री नम्बर 14555 पर योजना के संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
आयुष्मान भारत योजना की लाभार्थी सोलन जिले के ग्राम काटल कठार, बोहली की निवासी 62 वर्षीय लीला देवी ने बताया कि वे मोतियाबिंद बीमारी से जूझ रहीं थीं। आयुष्मान भारत योजना के कार्ड के साथ वे अपने उपचार के लिए महर्षि मार्कण्डेश्वर अस्पताल सुल्तानपुर पहुंची। यहां उनका सफल ऑप्रेशन किया गया और अब उनकी आंखें बिल्कुल ठीक हैं। उन्होंने अवगत करवाया कि बीमारी के दौरान उन्हें सुविधााएं निःशुल्क प्रदान की गई। उन्होंने इसके लिए केंद्र एवं प्रदेश सरकार का आभार व्यक्त किया है।

सेवा सप्ताहः वरिष्ठजनों ने सांझा किए अपने अनुभव, युवाओं को दिया ये संदेश

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here